Thursday, September 22, 2016

फरीदाबाद पुलिस द्वारा ड्रोन तकनीक से की जाएगी सुरक्षा व्यवस्था



फरीदाबाद (abtaknews.com ) पुलिस आयुक्त डा0 हनीफ कुरैशी  की अध्यक्ष्ता में एन.एच.पी.सी के सभागार में अपराध गोश्ठी का आयोजन किया गया। मिटिंग के दौरान जिला उपायुक्त श्री चंद्रषेखर व जिला पुलिस व जिला के नोडल आफिसर मौजूद रहे।श्रीमान पुलिस आयुक्त ने औद्योगिक नगर की पुलिस के बेड़े में अब ड्रोन कैमरा को भी शामिल किया है। आतंकवादी घटना, दंगा-फसाद जैसे प्रतिकूल हालात में या जाम की समस्या से निपटने में जिला फरीदाबाद पुलिस इस तकनीकि का इस्तेमाल करेगी। बुधवार को पुलिस आयुक्त श्री हनीफ कुरैशी ने कार्यप्रणाली के प्रदर्शन के बाद इसे ड्रोन को पुलिस के सहयोगी उपकरण के रूप में शामिल किया।

श्रीमान पुलिस आयुक्त ने बताया कि फरीदाबाद में जाम की तंगी है नेशनल हाईवे सहित शहर की मुख्य सड़कें सुबह शाम जाम की समस्या से जूझती हैं। जाम में फंसे वाहनों का बेहतर प्रबंधन कर रास्ता बनाने में ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा। यही नहीं जाम का सबब बनने वाले वाहनों की पहचान कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने में भी ड्रोन की मदद ली जाएगी। औद्योगिक नगरी में बिजली, पानी की मांग आदि को लेकर रोजाना धरना प्रदर्शन, रास्ता जाम जैसे आंदोलन होते रहते हैं। इन प्रदर्शन आंदोलनों के दौरान कुछ अराजकतत्व माहौल बिगाडने का काम करते हैं। ऐसे अराजकतत्वों की पहचान के लिए भी ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा।
उन्होने बताया कि अग्निकांड जैसी घटनाओं में इमारत में फंसे लोगों को ढूंढने में भी इस तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है। राजधानी दिल्ली के सबसे करीब होने की वजह से बाबा फरीद की नगरी भी सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील है। आतंकवादी घटनाओं की संभावनाओं को देखते हुए भी इस तरह की तकनीकी आवश्यक है। सराय ख्वाजा थाना प्रभारी इंस्पेक्टर अनिल कुमार ने बताया कि बुधवार को सेक्टर-३३ स्थित नेशनल पॉवर टे्रनिंग इंस्टीट्यूट (एनपीटीआई) पुलिस आयुक्त हनीफ कुरैशी के सामने ड्रोन का प्रदर्शन किया गया। हेडकांस्टेबल संजय ने ड्रोन ऑपरेट कर पुलिस आयुक्त को कार्य प्रणाली दिखाई। इसके बाद ड्रोन को पुलिस के बेड़े में शामिल कर लिया गया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: