Sunday, September 25, 2016

बाबा भीमराव के लिये जान भी दे देेंगे गांव दौलताबाद वासी


फरीदाबाद 25 सितंबर(abtaknews.com)। फरीदाबाद के बीचों बीच बसे हुए गांव दौलताबाद के लोगों की डा. भीमराव अम्बेडकर के प्रति श्रद्धा अब हुडा विभाग के आडे आ गई है, गांव की बर्षो पुरानी जमीन पर लगी हुई अम्बेडकर की प्रतिमा को हुडा विभाग हटाकर उस जमीन की चारदीवारी कर रहा है मगर गांववासी ऐसा नहीं होने दे रहे हैं, जिसको लेकर आज पूरा गांव इसी जमीन पर आकर बैठ गया है, और चेतावनी भी दी है कि अगर उनकी जमीन से बाबा की प्रतिमा हटाई तो अंजाम बहुत बुरा होगा। हालांकि अभी हुडा विभाग ने इस कार्यवाही को स्थगित कर दिया है।
 फरीदाबाद में एक बार फिर लोगों की श्रद्धा और प्रशासन के बीच झडप देखने को मिली, दरअसल फरीदाबाद के बीचों बीच बसा हुआ दौलताबाद गांव करीब 70 साल पुराना गांव है जिसकी ग्राम समाज की जमीन महिला पुलिस थाने के पास है जिसमें गांववासी अपने पशुओं को बांधते हैं। इसी जमीन में बर्षो पुरानी बाबा भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा भी लगी हुई थी जो कि शहर में विकास कार्य होने के कारण नीचे हो गई थी उसी प्रतिमा को गांववासियों ने नये रूप में उपर उठवा दिया है जिसे तोडने के लिये हुडा विभाग के कुछ अधिकारी पहुंचे हुए थे मगर गांववासियों की श्रद्धा देखकर उन्हें उल्टे पांव ही वापिस जाना पडा।
इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए गांव के सरपंच इंन्द्रपाल ने कहा कि गांव की पुस्तैनी जमीन को हुडा विभाग अपने कब्जे में करना चाहता है, जिसके लिये विभाग ने जमीन ने चारदीवारी करना भी शुरू कर दिया है, मगर ग्रामीणों का गुस्सा तो उस वक्त फूटा जब उनके देवता समान बाबा भीमराव की प्रतिमा को अधिकारियों ने तोडना चाहा, जिसको लेकर पूरा गांव एकत्रित हो गया है, उनकी मांग है कि वो दलित है इसलिये प्रशासन उनपर कार्यवाही कर रहा है शहर में प्रत्येक विरादरी के नाम से भवन बने हुए हैं इसलिये उन्हें इसी जमीन पर बाबा भीमराव के नाम से भवन चाहिये ताकि वो अपना समाज एक ही स्थान पर एकत्रित कर सकें। इतना ही नहीं उन्होंने विभाग को चेतावनी भी दी है कि अगर बाबा की प्रतिमा को हटाने की कोशिश भी कि तो अच्छा नहीं होगा ग्रामीण अपनी जान दे देंगे मगर प्रतिमा को नहीं हटने देंगे।
वहीं गांव की महिलाओं में भी अपने देवता के अपमान के चलते काफी आक्रोश है उन्होंने मांग की है कि उनकी पुस्तैनी जमीन के साथ छेडछाड न कि जाये अन्यथा अंजाम बहुत बुरा होगा।


loading...
SHARE THIS

0 comments: