Thursday, September 22, 2016

एमआरआईयू के स्टूडेंट्स जीत के लिए नैशनल कार्टिंग रेसिंग चैंपियनशिप में लेंगे हिस्सा



फरीदाबाद(abtaknews.com )मानव रचना इनोवेशन एंड इंक्यूबेशन सेंटर (एमआरआईआईसी) सेंटर में इस समय उत्साह की लहर है। टीम कलाकार जल्द ही नैशनल कार्टिंग रेसिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लेने वाली है। महाराष्ट्र कोल्हापुर में 29 सितंबर से 2 अक्टूबर तक आयोजित होने वाली नैशनल चैंपियनशिप में मानव रचना इंटरनैशनल यूनिवर्सिटी (एमआरआईयू) की टीम कलाकार हिस्सा लेने वाली है। चैंपियनशिप कोल्हापुर में आयोजित होने वाली है और इसमें देश से अलग-अलग 170 टीमें चैंपियनशिप में हिस्सा लेने पहुंचेंगी। इस अलग अलग कैटिगरी में विजेताओं के लिए 10 लाख का इनाम रखा गया है। टीम कलाकार इससे पहले भी आईजीसी गो कार्टिंग चैंपियनशिप में बेस्ट टीम एट सोशल मीडिया की ट्राफी हासिल कर चुकी है। इस बार भी टीम से संस्थान के लिए गौरव लाने की उम्मीद लगाई जा रही है।

उत्साहित टीम ने बनाई कार;-टीम कलाकार जोश से भरे युवाओं की टीम है। इस टीम ने अपने उत्साह के साथ इस कार को तैयार किया है। टीम के कैप्टन (मकैनिकल इंजीनियरिंग के पांचवे सैमेस्टर के स्टूडेंट) शिवम शर्मा ने बताया गो कार्ट बनाना एक चैलेंज था, जिसको हमने बहुत प्यार और मेहनत से बनाया है। यह 100 किलो की कार है। इसकी अधिकतम स्पीड 80 किलोमीटर प्रति घंटा है औऱ इसमें 135 सीसी की बजाज डिस्कवर का इंजन लगाया गया है। इसकी खासियत यह है कि 6 सेकंड में कार 0 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच सकती है। कार को डिजाइन रिषभ खन्ना, अंशुल नरुला, सिद्धार्थ यादव, अभिषेक रत्रा में अहम भूमिका निभाई। इसके अलावा टीम में रोहन, मोइन, साहिल, रमन, अमन, देवप्रीतम, कार्तिक, गुरप्रीत, प्रियजीत, पुनीत, तन्मय, तंजील, इंद्रजीत, अमुल व राहुल शामिल है। टीम ने यूनिवर्सिटी के मकैनिकल इंजीनियरिंग विभाग के फैकल्टी एडवाइजर श्री सुनील कुमार व एमआरआईआईसी के डिप्टी डायरेक्टर मैंटर श्री अभिषेक चौहान के मार्गदर्शन में काम किया।

सेफ्टी का खास ध्यान रखरक तैयार की गई कार;-टीम ने कार के वजन को कम से कम करने के ऊपर बहुत काम किया है। इसके साथ-साथ सेफ्टी की खास ध्यान रखा गया है। टीम ने एस्कलेटर पैडल में रैस्ट्रिक्शन लगाई है। कार में पॊजिटिव स्टीयरिंग लॊक है व ब्रेक पैडल को कंट्रोल करने के ले भी स्वीच लगाया गया है। टीम कलाकार के सदस्य रिषभ खन्ना ने बताया कि उन्हें आशा है कि वह अस्केलेटर टेस्ट, एंड्यूरैंस टेस्ट व आटो क्रास टेस्ट में जरूर क्वालीफाई करेंगे।
टीम को चैंपियनशिप के लिए रवाना करते हुए एमआरआईयू एफईटी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर व डीन डॊ. एम.के.सोनी ने कहा कि टीम कलाकार का उत्साह व कार को तैयार करने में लगाई गई मेहनत सराहनीय है। पूरे संस्थान की तरफ से टीम कलाकार को शुभकामनाएं व हम आशा करते है कि टीम अपनी मेहनत व जज्बे के बल पर संस्थान के लिए गौरव लाएगी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: