Tuesday, September 13, 2016

पीड़िता का संघर्ष रंग लाया, बेटी बचाओ अभियान चलाते थे पकडे गए गैंगरेप के आरोपी




फरीदाबाद(abtaknews.com ) मीडिया द्वारा दिखाई गई गैंगरेप पीडिता की खबरों के बाद 8 माह से आजाद घूम रहे गैंगरेप के दो आरोपियों को उन्हीं के घर से पुलिस ने गिफ्तार कर लिया है जिन्हें मैडिकल करवाने के बाद कोर्ट में भी में पेश कर दिया गया है। गिरफ्तारी पर पुलिस का कहना है कि अब उन्हें गैंगरेप से सबंधित सभी तथ्य मिल गये हैं जिनके आधार पर उन्होंने रामपाल और प्रवीण को गिरफ्तार कर लिया है जिन्होंने अभी तक की पूछताछ में अपना जुर्म भी कबूल लिया है। वहीं गिरफ्तारी में हुई देरी के बारे में पुलिस की ओर से कोई जबाब नहीं दिया गया है मगर वहीं पता चला है कि आरोपी रामपाल नरवत भाजपा द्वारा चलाये गये बेटी बचाओ अभियान के तिगांव क्षेत्र से यूथ प्रेसीडेंट हैं। शायद उनका ये ही पद गिरफ्तारी में हुई देरी का कारण हो।
मीडिया द्वारा प्रमुखता से इस गैंगरेप की घटना को दिखाए जाने और पीडिता को  न्याय  दिलाने में मुखर बनकर पीड़िता की मदद की जिससे उच्च अधिकारी और सरकार पर दबाव बना, लगातार मीडिया की सुर्खियां बनते इस गैंग रैप के मुख्य दो आरोपियो को आनन फानन में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया जिन्हें मंगलवार को जिला अदालत में पेश किया गया जहाँ से दोनों आरोपियो को एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। अभी भी 3 आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

आखिर कौन है आरोपी रामपाल नर्वत ;- हरियाणा -उत्तरप्रदेश के चर्चित गैंग रैप का मुख्य आरोपी रामपाल नर्वत हरियाणा प्रदेश में चल रही बेटी बचाओ अभियान के तिगांव विधान सभा क्षेत्र से यूथ के अध्यक्ष है।  हरियाणा पुलिस इसी के चलते आरोपी को बचाने और पीड़िता पर समझौता करने का दबाव बना रही थी। महिलाओं को इंसाफ दिलाने के लिए खोले गए महिला पुलिस थाने की अधिकारी ही पीड़िता को बार बार प्रताड़ित करती थी, आरोपी भी पीड़िता को ए दिन धमकाते रहते थे लेकिन पीड़िता ने हौंसला नहीं छोड़ा और न्याय के लिए लड़ती रही। आरोपी रामपाल नरवत के पास एक शादी का कार्ड मिला जिस पर प्रेषक के रूप में अवधेश पंडित के साथ रामपाल नरवत बेटी बचाओ अभियान के यूथ प्रेसीडेंट तिगांव लिखा हुआ है। जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस मामले में देरी क्यों हो रही थी। 
गैंगरेप मामले में आरोपीयो पर कौन कौन सी धाराओं में मुक़दमे दर्ज हुए ;-  गैंग रैप आरोपियो पर दिनांक 13 अगस्त को पीड़िता की शिकायत पर  धारा  328, 376 डी, 450, 506 और 8 पास्को एक्ट के तहत महिला पुलिस थाने में मामला दर्ज हुये लेकिन आरोपियो कि गिरफ़्तारी ना होने से परेशान पीडिता ने तीन दिन तक पुलिस आयुक्त के सेक्टर 21 सी स्थित कार्यालय के बाहर अनशन दिया उसके बाद भी गिरफ़्तारी नहीं हुई तो मजबूरन पीड़िता ने प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, मुख्य न्यायधीश, मुख्य मंत्री, राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग कर डाली। पीड़िता को न्याय नहीं तो मौत वाला मुद्दा जब मीडिया की सुर्खियां बना तो प्रदेश सरकार और हरियाणा की उच्च अधिकारी हरकत में आए और आनन फानन में 24 घंटे के अन्दर अंदर ही दो आरोपियो की गिरफ्तार कर कोर्ट में भेज दिया। 

क्या है सारा मामला ;- फरीदाबाद की एक महिला को 31 अकटूबर,2015  को प्लाट दिखाने के बहाने मथुरा ले जाया गया जहाँ उक्त आरोपियो ने उसके साथ गेंग रेपकिया। गेंग रेप पीडि़ता का आरोपियो ने एम एम एस बनाकर उसे ब्लैक मेल करना शुरू कर दिया। मुकदमा दर्ज ना कर पाए इसके लिए आरोपी पीड़िता को उक्त फिल्म दिखाकर और उसकी लड़कियो के साथ भी ऐसी ही घटना करने की धमकी देते रहे।  पीड़िता की जब शिकायत पुलिस ने दर्ज नहीं की तो वह मीडिया के संपर्क में आई।  मीडिया की सुर्खियां बनने के बाद मामला दर्ज हुआ लेकिन आरोपी खुले घूम रहे थे और आए दिन पीड़िता को धमकाते रहे।  
पीड़िता ने हिम्मत नहीं हारी और न्याय के लिए संघर्ष करती रही।  फरीदाबाद की मीडिया ने पीड़िता की भरपूर मदद की जिसके चलते आज दो आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है बाकि के 3 आरोपी भी बहुत जल्द सलाखों के अंदर होंगे। 
 पहले तो इनके खिलाफ रपट दर्ज कराने के लिए धक्के खाती रही और फिर गिरफ्तारी के लिए उसे पुलिस आयुक्त कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन तक करना पड़ा। लेकिन पुलिस पर इसका कोई असर नहीं हुआ और पीडि़ता को वहां से खदेड दिया। जब पीडि़ता ने प्रधानमंत्री और मुख्य न्यायधीश से इस जिल्लत भरी जिंदगी को समाप्त कर इच्छा मृत्यु की मांग जब मीडिया की सुर्खियां बना तो पुलिस हरकत में आई और दो आरोपियों को गिरफ्तार करके आज उनका मेडीकल करवाने के बाद आरोपियों को कोर्ट में भी पेश कर दिया गया है।

क्या कहती है जाँच अधिकारी सुशीला ;- पूरे मामले की जांच कर रही महिला पुलिस अधिकारी सुशीला ने अबतक न्यूज़ पोर्टल की टीम को बताया कि  देर शाम पुलिस द्वारा आरोपियों के घर पर रेड मारी गई जहां से रामपाल और प्रवीण दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है जिन्होंने अभी तक की पूछताछ में गैंग रैप की घटना में अपना जुर्म भी कबूला है। वहीं गिरफ्तारी में हुई देरी के बारे में पुलिस अधिकारी कुछ भी बताने को तैयार नहीं हैं। 

पीड़िता ने किया मीडिया का आभार व्यक्त ;- वहीं गैंगरेप पीडिता ने मीडिया द्वारा दिये गये साथ के लिये मीडियाकर्मियों का बार बार धन्यवाद किया है, और बताया कि उन्हें अभी अभी पता लगा है कि आरोपी रामपाल  बेटी बचाओ अभियान का  यूथ प्रेसीडेंट है जिसके चलते उन्हें पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही थी, अगर  ऐसे लोग बेटी बचाओं अभियान चलाएंगे तो कैसे हरियाणा की बहू -बेटियां सुरक्षित रह पाएंगी। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: