Thursday, September 22, 2016

गुडग़ांव सेक्टर-55 के अपार्टमैन्ट में महिला मर्डर के आरोपी गिरफ्तार



चण्डीगढ़, 22 सितंबर(abtaknews.com ) हरियाणा पुलिस ने गुडग़ांव के सैक्टर-55 के अपार्टमैन्ट में महिला की हत्या के मामले में हत्यारे को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।  इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गत 14 सितंबर, 2016 को  पुलिस को सूचना मिली थी कि गुडगांव के सैक्टर-55 के फलैट नंबर बी-107 ब्रादर्स एपार्टमैन्ट में रहने वाली जयरानी झिगरन नामक एक बुजुर्ग महिला की किसी व्यक्ति ने हत्या कर दी है तथा वहां से कुछ नकदी व ज्वैलरी भी गायब है। इस सूचना पर भादस की धारा 302, 392, 450 के अंतर्गत थाना सैक्टर-56 गुडगांव में अंकित किया गया था।

उन्होंने बताया कि एपार्टमैन्ट में रहने वाली बुजुर्ग महिला की दिन दहाडे हुई हत्या व लूटपाट के इस सनसनीखेज वारदात को पुलिस द्वारा गम्भीरता से लिया गया था तथा इस मामले को सुलझाने के लिए पुलिस टीमें गठित करके तफतीश शुरू की गई। इस सन्दर्भ में एकत्र की गई सूचनाओं व टैक्नीकल अनुसन्धान करने पर शक की सुई मृतका के पडोस में ही रहने वाले युवक पर टिक गई। इस युवक की हरकतों व अन्य गतिविधियों पर पुलिस ने नजर रखनी शुरू कर दी। मौका से एकत्रित किए गए साक्ष्यो, फिंगर प्रिंट आदि की भी गहनता से जांच की गई। पुलिस ने गत दिवस 21 सितंबर, 2016 को इस युवक से पूछताछ की गई। पहले तो यह पुलिस को बरगलाता रहा लेकिन कड़ाई से पूछताछ करने पर वह टूट गया तथा इस हत्याकाण्ड के सभी राज खोल दिए।
 
प्रवक्ता ने बताया कि हत्यारे ने अपना नाम व पता करण उर्फ किट्टू पुत्र अशोक कुमार निवासी गांव सेगा जिला कैथल उम्र 31 साल बताया है। वह पिछले कुछ समय से एपार्टमैन्ट न. बी-109 ब्रादर्स एपार्टमैन्ट सैक्टर  55 गुडगांव में परिवार सहित रह रहा था तथा सनसिटी में अपने पिता के साथ दुकान चला रखी थी। इसने पहले कैथल में आढत की दुकान चला रखी थी तथा इसे वहां काफी घाटा हो गया था। अधिक कर्जवान होने पर यह गुडगांव आ गया तथा सनसिटी में एक दुकान किराए पर लेकर वहां पतंजलि कम्पनी का सामान बेचने लगा। कर्जा होने के कारण धन कमाने का अधिक दबाव था तो इसने शार्टकट तरीका अपनाने की योजना बनाई। पडोस में रहने के कारण इसे पता था कि दिन में मृतका का बेटा व बहू अपनी डियूटी पर चले जाते है तथा छोटी बच्ची स्कूल चली जाती है। वारदात वाले दिन इसने योजनानुसार जब मृतका के पुत्र, पुत्रवधु व पोती डियूटी/स्कूल चले गए तो यह प्लास मांगने के बहाने मृतका के पास गया। जैसे ही मृतका ने प्लास लाकर इसे दिया तो इसने उस बुजुर्ग महिला पर प्लास से हमला कर दिया तथा उसका गला भी दबा दिया और उसकी  हत्या कर दी। इसके बाद मृतका के कानों में से कुण्डल, गले की  चेन लूट ली तथा घर के अन्दर से ही एक अन्य सोने की अंगूठी आदि भी लूट ली तथा वहां से निकल कर अपने फलैट में चला गया।


उन्होंने बताया कि मृतका के परिजनों, पुलिस व लोगों को शक ना हो इसलिए वह हत्या के बाद भी सहानुभूतिपूर्वक व्यवहार करता रहा लेकिन शक व टैक्नीकल तफतीश में वह पुलिस के हत्थे चढ गया। लूटी गई ज्वैलरी के बारे इसने बताया कि उसने यह ज्वैलरी कैथल में मुथुट फाईनैन्स कम्पनी में गिरवी रख दी है तथा उनके बदले इस 13/14 हजार रूपये मिल थे। उन्होंने बताया कि कल सायं इसे इस हत्याकाण्ड व लूट के मामले में गिरफतार कर लिया गया था, जहां से इसे न्यायालय में पेश किया गया जहां से पूछताछ हेतू इसे पुलिस हिरासत में ले लिया गया है। उन्होंने बताया कि लूटी गई ज्वैलरी को मुथुट फाईनेंस कैथल से बरामद करने के प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने बताया कि पूछताछ  करने पर यह भी ज्ञात हुआ कि फिरौती के एक मामले में वर्ष 2015  में यह कैथल में जेल में भी रहा था तथा उस मामले में हाईकोर्ट से जमानत पर चल रहा था। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: