Wednesday, September 21, 2016

एशियन अस्पताल में 22वीं आईएफएफएस वल्र्ड कांफ्रेंस आयोजित



फरीदाबाद 21 सितम्बर 2016(abtaknews.com ) एशियन इंस्टीटयूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ अस्पताल में आईएफएफएस संस्था द्वारा 22 वीं आईवीएफ वर्कशॉप का आयोजन किया गया। भारत में पहली बार आयोजित इस कार्यशाला में ५६ देशों के २०० डेलीगेट9स शामिल होंगे। एशियन अस्पताल के चेयरमैन एवं डायरेक्टर डॉ. एनके पांडे, डॉ. कुलदीप जैन, डॉ. अनीता कांत, डॉ डेनियल साउथ अफ्रीका, डॉ मारकस जर्मनी, डॉ जयंत मेहता यूके  और डॉ बालाजी सिंगापुर, डॉ. पंकज तलवार  द्वारा दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। यह कांफ्रेस भारत में पहली बार केवल चार अस्पतालों में ही आयोजित की गई हैं। इनमें एम्स, एशियन इंस्टीटयूट ऑफ मेडिकल साइंसेज़ अस्पताल, सर गंगाराम अस्पताल और मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज शामिल हैं।

एशियन केजेआईवीएफ सेंटर के डायरेक्टर और आईएफएफएस के पूर्व प्रेजीडेंट डॉ. कुलदीन जैन ने बताया कि यह एक अंतर्राष्ट्रीय स्तर की कार्यशाला है। आईवीएफ एक ऐसा विज्ञान है जो नि:संतान दंपत्तियों को संतान प्रदान करता है।  आईवीएफ की सफलता इसकी बेहतर तकनीक पर निर्भर करती है। एशियन केजेआईवीएफ सेंटर एक अत्याधुनिक तकनीकों से लैस एआरटी सेंटर है। एशियन अस्पताल में आयोजित कार्यशाला में अत्यंत सूक्ष्म तकनीक जैसे पीजीडी/ पीजीएस, टाइम लैप्स इमेजिंग और इंब्रीयो बायप्सी विषयों पर चर्चा की गई, जिनसे आईवीएफ के परिणामों को बेहतर बनाया जा सकता है। पुरुषों में बांझपन जैसे शुक्राणुओं की बनावट पर चर्चा की गई। डॉ. जैन ने बताया कि देश-विदेश से आए २०० से अधिक प्रतिनिधियों ने इस कार्यशाला में भाग लिया। ये प्रतिनिधि न केवल राष्ट्रीय स्तर पर इस्तेमाल की जा रही तकनीकों से रूबरू हुए बल्कि उन्होने इस कार्यशाला में सक्रिय भागीदारी भी ली। डॉ. जैन ने यह भी बताया कि यह कार्यशाला आईएफएफएस का ही एक हिस्सा है।
इस कांफ्रेस एवं कार्यशाला का आयोजन ६० वर्षों में पहली बार और चौथी बार एशिया में हो रहा है। डॉ. धीरज गाड़ा आईएफएफएस आयोजन के संयोजक, डॉ. कुलदीप जैन और डॉ रिषिकेश पाई आयोजन के सचिव के लगातार अथक प्रयासों से संभव हुआ है। मुख्य कांफ्रेस इंडिया एक्स्पो सेंटर, ग्रेटर नोएड़ा में २२ से २५ सिंतंबर तक आयोजित की जा रही है। इसमें पूरी दुनिया से ५६ सदस्य देशों के २५०० से ज्यादा प्रतिनिधि इस कांफ्रेंस में भाग ले रहे हैं। इस कांफ्रेंस का शुभारंभ माननीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री श्रीमति अनुप्रिया पटेल के कर कमलों द्वारा किया जाएगा। आईवीएफ में अपने-अपने क्षेत्रों में निपुण राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञ कार्यशाला का संचालन करेंगे। गौरतलब है कि एशियन केजेआईवीएफ सेंटर सभी अत्याधुनिक तकनीकों जैसे स्पर्म फंक9शन जांच भी उपलब्ध है, जिससे ने केवल फरीदाबाद वासियों और आस-पास के दंपत्तियों को भी लाभ मिल सकता है।




loading...
SHARE THIS

0 comments: