Monday, August 1, 2016

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुडग़ांव का हैलीकॉप्टर से हवाई सर्वेक्षण किया



CM Manohar Lal, accompanied by D.C Gurgaon  takes an aerial view of Traffic jams चंडीगढ़, 1 अगस्त,2016(abtaknews.com )हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज गुडग़ांव का हैलीकॉप्टर से हवाई सर्वेक्षण किया और बादशाहपुर ड्रेन व नजफगढ़ ड्रेन में पानी का स्तर देखने के अलावा जलभराव तथा टूटी सडक़ों का जायजा लिया। उन्हे सर्वेक्षण मे कहीं भी सडक़ों पर जलभराव नज़र नही आया। हवाई सर्वेक्षण के बाद मीडिया प्रतिनिधियों के साथ बातचीत करते हुुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुडग़ांव के हीरो होंडा चौंक पर जलभराव की समस्या पुरानी है और जब राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर-8 बना था उस समय प्लानिंग में रही कमी इसकी वजह है। फिर भी गुडग़ांव नगर निगम, जिला प्रशासन, सिंचाई विभाग आदि सभी गुडग़ांव में पिछले दिनों हीरो होंडा चौंक पर हुए जलभराव तथा उसके कारण राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगे ट्रैफिक जाम के कारणों का अध्ययन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हवाई सर्वेक्षण से दिखाई दिया है कि बादशाहपुर ड्रेन पर अतिक्रमण हो रखा है तथा सफाई भी पूरी तरह से नही की गई है। इसी वजह से डे्रन का रास्ता उस दिन हुई भारी बरसात के पानी की निकासी के लिए काफी नही था। श्री मनोहर लाल ने कहा कि इसका अध्ययन करने के बाद आप्रेशन करना पड़ेगा ताकि भविष्य में लोगों को कठिनाई ना हो। 
एक सवाल के जवाब मे मुख्यमंत्री ने कहा कि हवाई सर्वेक्षण से देखने में पाया गया कि नजफगढ़ ड्रेन भी बरसात के मौसम में पूरा पानी नही ले पा रही है। दिल्ली ने नजफगढ़ ड्रेन पर बांध बना दिया और हरियाणा में कोई बांध नही है। नजफगढ़ ड्रेन के साथ लगते हरियाणा के हिस्से में हज़ारो एकड़ भूमि आज भी जलमग्र है। उन्होंने कहा कि यह बड़ी समस्या है इसके लिए बड़ी योजना बननी चाहिए और वे इस संबंध में केन्द्र सरकार को पत्र लिखेंगे। उन्होंने ये भी कहा कि गुडग़ांव में सभी एजेंसियां मिलकर काम करेंगी । 
एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि हीरो होंडा चौंक पर जलभराव का दूसरा कारण यह रहा कि वहां पर फ्लाईओवर का निर्माण हो रहा है जिसकी वजह से हाईवे की  6 लेन में से केवल 3 लेन ही बची थी। पहले भी हीरो होंडा चौंक पर पानी भरने का इतिहास है लेकिन उस समय अतिरिक्त पानी अपने आप साईडो में बह जाता था। इस बार हाईवे निर्माण के कारण पानी का बहाव नही हो सका। इसके अलावा, सर्विस रोड़ पर दो बड़े वाहन खराब हो गए , जिससे सडक़ मार्ग अवरूद्ध हो गया। यही नहीं, उस दिन अकस्मात भारी बरसात हुई जिसका किसी ने भी अनुमान नही लगा रखा था। कावडिय़ों की वजह से भी सडक़ पर वाहनों के आवागमन में दिक्कत थी और एयरपोर्ट की टैक्सियों की हड़ताल थी जो उसी दिन सांय 3:30 बजे खुली थी। इस प्रकार, उस दिन गुडग़ांव में राष्ट्रीय राजमार्ग जाम होने के  कई कारण बने। फिर भी मुख्यमंत्री ने माना कि टै्रफिक को रेगुलेट किया जा सकता था। उन्होंने कहा कि दीर्घ अवधि की प्लानिंग के लिए अपनी जिम्मेदारियां होती हैं और लघु अवधि की प्लानिंग अलग प्रकार से होती है। 
इसके बाद मुख्यमंत्री ने गुडग़ांव के जिमखाना क्लब पहुंचकर संबंधित अधिकारियों के साथ  जलभराव तथा ट्रैफिक जाम के कारणों के बारे में समीक्षा की। उन्हें बताया गया कि नजफगढ़ डे्रन पर दिल्ली सरकार ने कांकरौला बैराज बना रखा है जिसके  11 में से 9 गेट वर्तमान में खुले है और दो बंद रखे गए हैं। मुख्यमंत्री को कांकरौला बैराज पर डे्रन में पानी का स्तर तथा बहाव की गति का एक वीडियो भी दिखाया गया जिसमें अब भी ड्रेन ऊपर तक लबालब भरी हुई नज़र आई और पानी का बहाव बहुत ही धीमी गति, लगभग ना के बराबर था।
बाद में, गुडग़ांव से मानेसर एक कार्यक्रम में भाग लेने जाते समय मुख्यमंत्री ने हीरो होंडा चौंक से आगे रास्ते में रूककर बादशाहपुर ड्रेन का मुआयना भी किया। उनके साथ उपस्थित हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने मुख्यमंत्री को वर्तमान स्थिति से अवगत करवाया और बताया कि यह बादशाहपुर डे्रन गांव खांडसा में संकरी हो जाती है। इस पर मुख्यमंत्री ने गुडग़ांव के नगर निगम आयुक्त टी एल सत्यप्रकाश को बादशाहपुर डे्रन के वर्तमान स्वरूप का डिजाइन तैयार करके उनके पास भेजने के निर्देश दिए और कहा कि उसके बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा। 
इस सर्वेक्षण में मुख्यमंत्री के साथ हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह, सोहना के विधायक तेजपाल तंवर, हरियाणा हाऊसिंग बोर्ड के चेयरमैन जवाहर यादव, जिला परिषद् के अध्यक्ष कल्याण सिंह चौहान, भाजपा के जिला अध्यक्ष भूपेन्द्र चौहान, भाजपा की प्रदेश सचिव गार्गी क्ककड़ , मीडिया संपर्क सूरजपाल अम्मू, गुडग़ांव के मंडलायुक्त डा. डी सुरेश, हरियाणा भवन के रैजीडेंट प्रधान सचिव आनंद मोहन शरण, पुलिस आयुक्त नवदीप सिंह विर्क, उपायुक्त टी एल सत्यप्रकाश भी उपस्थित थे। 



loading...
SHARE THIS

0 comments: