Thursday, August 18, 2016

ओम शांति ओम ब्रह्म कुमारी आश्रम की बहनों ने पुलिस अधिकारियो को बांधी राखी




फरीदाबाद -अगस्त 18,2016(अबतक न्यूज़ ) कार्यालय पुलिस आयुक्त, फरीदाबाद में श्री विरेन्द्र विज, उपायुक्त, मुख्यालय व अन्य तैनात अधिकारी व कर्मचारियों को बांधा रक्षा सूत्र।‘ओ३म् शांति ओ३म्‘ संस्थान, ब्रह्म  कुमारी आश्रम, एन॰आई॰टी॰, फरीदाबाद से कार्यालय पुलिस आयुक्त पहुँची सुश्री पूनम वर्मा ने श्री विरेन्द्र विज, पुलिस उपायुक्त, मुख्यालय, फरीदाबाद, श्री जितेष मलहोत्रा, सहायक पुलिस आयुक्त, मुख्यालय, फरीदाबाद की कलाई पर राखी बांधी।


इस मौके पर मौजूद रहे अन्य पुलिस कर्मियों - निरीक्षक रविंद्र कुमार, मुख्यलिपिक, आई॰टी॰ निरीक्षक, श्री जितेंद्र सिंह, उप निरीक्षक सुरेंद्र सिंह, उप निरीक्षक चंद्र सैन, स॰उ॰नि॰ राम कुमार व कार्यालय में तैनान अन्य पुलिस कर्मचारियों को राखी बांधकर रक्षा बंधन का त्योहार मनाया व उनकी उस तमन्ना को पूरा किया जिसके लिए वे ड््यूटी की व्यस्तता के कारण अपनी बहन के पास नहीं जा सके थे। सभी अधिकारियों तथा कर्मचारियों द््वारा बहन पूनम सहित देष की सभी बहन-बेटियों की रक्षा का संकल्प लिया।
 विरेन्द्र विज उपायुक्त, मुख्यालय, फरीदाबाद ने ‘ओ३म्  शांति ओ३म्‘ संस्थान, ब्रह्म कुमारी आश्रम, एन॰आई॰टी॰, फरीदाबाद से कार्यालय पुलिस आयुक्त पहुँची सुश्री पूनम वर्मा व उनके साथ आये श्री सुरेन्द्र, का कार्यालय पुलिस आयुक्त पहुंचने के लिए आभार जताया व रक्षा बन्धन की हार्दिक शुभकामनाए दी।इस अवसर पर  विरेन्द्र विज, पुलिस उपायुक्त, मुख्यालय, फरीदाबाद द्वारा सभी पुलिस कर्मियों को रक्षा बंधन की हार्दिक शुभ कामनाएँ दी।

नीलम बाटा रोड़ स्थित प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज केंद्र ने रक्षा सूत्र बांधने का कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें ब्रह्माकुमारी केंद्र की संचालिका बीके ऊषा ने शहर के लोगों को रक्षासूत्र बांधा और रक्षा सूत्र की उपयोगिता एवं उपादेयता पर विचार मंथन किया।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में एसीपी शकीर हुसैन, इंडियन ऑयल सीआईएसएफ अस्टिेंट कमांडेट डीडी राम मौजूद थे। एसीपी शकीर हुसैन ने कहा कि रक्षा बंधन का त्यौहार केवल बहन-भाई का पर्व नहीं है, यह तो रक्षा करने का त्यौहार है जो कोई भी किसी की कर सकता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्म निर्भर बनकर अपनी रक्षा स्वंय करना भी सीखना चाहिए। इस मौके पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारीज केंद्र की प्रभारी बी.के. ऊषा ने कहा कि रक्षा बंधन के उपलक्ष्य में आज हम सब एकत्रित हुए हैं तो इसमें परमात्मा की ही कृपा है। हम परमात्मा के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने हमें मौका दिया कि हम सब एक होकर इस शुभ दिन को अपनाएं। उन्होंने कहा कि रक्षा सूत्र का मतलब स्वयं की रक्षा विकारों से करना है। जब हम पांच विकारों से स्वयं की रक्षा करना सीख जाएंगे तो रक्षा सूत्र के मायने सफल हो जाएंगे। इस अवसर पर बी.के. उषा ने एसीपी शकीर हुसैन को व डीडी राम को व सभी आए हुए लोगों को रक्षा सूत्र बांधा। इस मौके पर राजयोग शिक्षिका बी.के पूनम, बी.के प्रिया व अन्य लोग मौजूद थे। 
फोटो परिचय एक- ब्रह्माकुमारीज केंद्र में आयोजित रक्षा सूत्र कार्यक्रम में एसीपी शकीर हुसैन को रक्षा सूत्र बांधती हुई। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: