Wednesday, August 31, 2016

गांव दयालपुर में कई परिवार कर चुके हैं धर्म परिवर्तन, कई टूटने की कगार पर


फरीदाबाद-अगस्त 31,2016(abtaknews.com ) घरेलु परेशानी हो या फिर दूसरे कारण गांव दयालपुर के कई परिवारों ने अपना धर्म परिवर्तन कर लिया है। इनमें अधिकांश लोग वह है जो किसी न किसी परेशानी का शिकार है और प्रशासन व सरकार से उनका विश्चास उठ चुका है। जिसका फायदा कुछ उठाकर कुछ लोग गांव में आ रहे हैं और लोगों को लालच देकर उन्हें अपने धर्म समलित होने के लिये प्रेरित कर रहे हैं। पंचायत ने इस बारे में एसडीएम और पुलिस को शिकायत दी है, लेकिन अभी तक उस पर कोई कार्रवाही नही हो पाई है।
दयालपुर गांव में आस्था कहे या अंधविश्वास देखने को मिल रही है  जहां किसी परिवार ने मानसिक दबाव में तो किसी ने आस्था के नाम पर धर्म परिवर्तन कर लिया है। धर्मांतरण के कारण गांवों की डेमोग्राफी भी बदल रही है। परिवारों में कलह बढ़ रहा है, कई परिवार टूटने की कगार पर है। 17वीं शताब्दी में सिखों के छठे गुरू हरगोविंद सिंह के तीर से बने मीठे पानी के नानकसर (नानक सरोवर) के लिए प्रसिद्व गांव दयालपुर गन्ने की खेती और गुड़ के लिए जाना जाता है। लेकिन, पिछले कुछ महीनों में यहां धर्मांतरण की ऐसी बयार बही कि देखा-देख आधा दर्जन परिवार धर्म परिवर्तन कर चुके है। हालांकि अधिकांश परिवार धर्म परिवर्तन की बात को नकार रहे है। उनका कहना है कि उन्होंने सिर्फ आस्था बदली है, धर्म नहीं बदला है।
गांव के निवासी राकेश बीसला ने कहा कि कुछ लोग दिल्ली से गांव में आते हैं जिनके हाथों में कुछ दवाईयां होती है जो कि बिमार लोगों को दवा देेते हैं जो व्यक्ति उन दवाओं से ठीक हो जाता है तो उसे अपने धर्म के भगवान की कृपा बताकर धर्म अपनाने के लिये बोलते हैं।ग्रामीण राजपाल बताते है कि धर्मांतरण के कारण गांव में कई परिवार टूटने की कगार पर है। ये लोग महिलाओं को बहला-फुसलाकर उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए उकसाते है। महिलाएं इनके झांसे में आ जाती है। जिसके कारण परिवारों में झगड़े बढ़ रहे है। पिछले दिनों एक महिला ने अपने पति को जलाकर मारने की कोशिश भी की। परिवार एक-दूसरे से दूर हो रहे है।
बल्लभगढ एसडीएम ने बताया है कि उनके पास दयालपुर गांव की पंचायत से कुछ लोग मिलने के लिये आये थे जिन्होंने शिकायत दी थी कि उनके गांव में कुछ लोग दिल्ल से आकर लोगों का धर्म परिवर्तन करवा रहे हैं जिसके चलते करीब 4 से 5 परिवारों ने धर्म परिवर्तन भी कर लिया है, जिसपर उन्होंने पटवारी को जांच के लिये गांव में भेजा हुआ है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: