Sunday, August 14, 2016

गैंग रैप पीड़िता मामले में पुलिस समझा रही है पत्रकार मोहन तिवारी एडवोकेट को कानून का पाठ





फरीदाबाद-अगस्त 14,2016(abtaknews.com ) शिकायत कर्ता महिला व उसके साथी पत्रकार मोहन तिवारी एडवोकेट के खिलाफ फरीदाबाद निवासी एक महिला ने, जो उपरोक्त शिकायत कर्ता महिला के पास सिलाई का काम सिखती थी ने दिनांक 09.05.16 को लिखित शिकायत महिला थाना में दी थी जिसके जांच के समबंध में शिकायत कर्ता/आरोपी महिला व उसके साथी मोहन तिवारी को बार-बार बुलाने पर भी नही आये जिनके खिलाफ मुकदमा न0 94/16 धारा 366,342,376,506,120बी. आई.पी.सी. महिला थाना सैक्टर 16 में दर्ज किया गया था।

उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता/आरोपी महिला व उसक साथी मोहन तिवारी कभी भी पुलिस के सामने दर्ज मुकदमें में जांच के सम्बंध में शामिल नही हुए जो छूपे हुए थें अब अदालत से जमानत मिलने के बाद 03.08.16 को शिकायत कर्ता महिला जांच में शामिल हुई और कोई सहयोग नही किया। अब दिनांक 08.08.16 को पुलिस आयुक्त कार्यालय में दरखास्त दी कि उसको दो आदमी अकटूबर 2015 में जमीन दिखाने के लिए मथुरा ले गये और मथुरा के होटल में गैंग रेप किया।

शिकायत कर्ता महिला ने पहले भी दरखास्त दी थी। लेकिन अपनी शिकायत के सम्बंध में पुलिस के बार-बार बुलाने पर भी अपना पक्ष रखने के लिए नही आई क्योकि वह और उसका साथी मोहन तिवारी मुकदमा नं0 94/16 के केश  में आरोपी थें जमानत होने के बाद ही पुलिस के सामने आये है शिकायत कर्ता/आरोपी महिला की शिकायत के समबंध में दिनांक 13.08.16 को बुलाया गया जिसके ब्यान पर कार्यवाही करते हुुए मुकदमा दर्ज किया जा रहा है शिकायत कर्ता महिला के साथी मोहन तिवारी जिसके खिलाफ छेड छाड व पोकसो एक्ट के तहत थाना ओल्ड में मुकदमा दर्ज है जो माननीय  कुलदीप सिह ए.एस.जे की अदालत में विचाराधिन है

loading...
SHARE THIS

0 comments: