Wednesday, August 17, 2016

फरीदाबाद में फिर आया हनी ट्रैप का मामला सामने




फरीदाबाद--अगस्त 17,2016(Abtaknews.com) फिर आया हनी ट्रैप का मामला सामने। घटना फरीदाबाद के जीवन नगर गौंछी की है जहां कुछ महिलाओं ने एक युवक को बुलाकर न केवल एक महिला के साथ जबरन सेक्स कराया बल्कि  उसे बलात्कार के मामले में फ़साने की एवज में लाखों रूपये की मांग की। पुलिस ने तीन महिलाओं को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया जबकि बाकी महिलाएं और पुरुष पुलिस को गच्चा देने में कामयाब हो गए। आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज कर बाकी आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि हनी ट्रैप का यह पिछले 1 सप्ताह में यह दूसरा मामला है।
फरीदाबाद के बादशाह खान सिविल अस्पताल में हनी ट्रैप के मामले में गिरफ्तार तीन महिलाओं को मेडिकल के लिए लाया गया है। दरअसल अमित भड़ाना नामक युवक ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि कुछ महिलाओं और युवकों ने उसे जबरन हनी ट्रैप के मामले में फंसा लिया है और उससे लाखो रुपए की डिमांड कर रहे हैं। पाली गांव निवासी अमित भड़ाना पेशे से फाइनेंसर है। अमित भडाना की शिकायत पर पुलिस अधिकारियों ने तुरंत संज्ञान लेते हुए इस मामले में संजय कॉलोनी चौकी की एक टीम गठित कर मामले का पर्दाफाश करने का आदेश दिया। पुलिस ने 30 000 के नोटों पर हस्ताक्षर कर के यह रूपए अमित बढ़ाना को दिए और अमित भड़ाना से कहा कि यह रूपए महिलाओं को दें और पैसे पकड़ते ही तुरंत उन्हें इशारा कर दें। पुलिस के योजना अनुसार जब यह रुपए अमित ने उक्त महिलाओं को दिए तो पुलिस ने इशारा पाकर इन महिलाओं को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया और दिए गए रुपए भी बरामद कर लिए।
संजय कॉलोनी चौकी इंचार्ज जगमाल सिंह ने बताया कि फरार मुख्य तीनों महिलाएं और पुरुष अभी गिरफ्तार नहीं किया जा सके। पुलिस के अनुसार इन महिलाओं ने अमित को उसके साथ गलत काम करने के लिए दबाव बनाया और गलत काम न करने पर उसे झूठे केस में फंसाने की भी धमकी दी। गलत काम करने के बाद तीन युवक उसके पास आए और उन्होंने स्वयं को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर लाखो रुपए की डिमांड की। स्वयं को इस स्कैंडल के बीच फंसा पाकर अमित ने  पूरण चन्द पवार , डीसीपी एन आईटी फरीदाबाद ने इस मामले की शिकायत पर तुरंत मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए। संजय कॉलोनी चौकी इंचार्ज की माने तो तीन महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है जबकि इस मामले की तीन मुख्य आरोपी महिलाएं और स्वयं को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताने वाले आरोपी युवक अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सके हैं जिन्हें पुलिस जल्द गिरफ्तार कर लेगी।




loading...
SHARE THIS

0 comments: