Saturday, August 13, 2016

भ्रष्टाचार और मंत्रियों के लोगो का फ्री में खाने-रहने के चलते घाटे में है हरियाणा टूरिज्म


 
  

 
फरीदाबाद- अगस्त 13,2016(अबतक न्यूज़) पर्यटन निगम कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर अरावली गोल्फ क्लब पर एक दिन का सांकेतिक धरना-प्रदर्शन किया। कर्मी नेताओं ने खुलासा किया कि हरियाणा के पर्यटन निगम किसी और वजह से नहीं बल्कि अधिकारियों के भ्रष्टाचार और मंत्रियों के लोगों के फ्री खाने व रहने के कारण घाटे में जा रहे है। हरियाणा में दो-तीन साल में तीन सौ प्रतिशत खाने के रेट बढ़ा दिए गए है, जबकि दूसरे राज्यों के पयर्टन निगमों में कही भी इतने रेट नहीं है। 
पयर्टन निगम अरावली गोल्फ क्लब पर धरना प्रदर्शन कर रहे पयर्टन कर्मियो ने उपरोक्त खुलासा मीडिया के सामने किया कि आज तक उनके लिए सेवा नियम नहीं बनाए गए है। जिसके कारण उनके कर्मी बिना पदोन्नति ही सेवानिवृत हो रहे है। पयर्टन कर्मी यूनियन उप महासचिव सुभाष देशवाल ने अबतक न्यूज़ संवाददाता से बातचीत में बताया कि अधिकारिओ के खिलाफ सच बोलने व आवाज उठाने वाले कर्मियों का तबादला कर दिया जाता है। जबकि पयर्टन निगम के अधिकारी भ्रष्टाचार में पूरी तरह लिप्त है। पार्टी में पांच सौ लोगों के स्थान पर मात्र दो सौ लोगों के खाने का ही बिल बनता है। इसके अलावा मंत्री और विधायकों  के गनमैन यहां फ्री खाना खाते है और रहते है। पयर्टन निगम में घाटे का ठीकरा कर्मचारियों के सिर फोडा जाता है। इसलिए निगम ने खाने के रेट दो से तीन सौ प्रतिशत बढ़ा दिए है। जो कि दूसरे राज्यों के मुकाबले काफी अधिक है। सर्व कर्मचारी संघ प्रधान अशोक कुमार ने बताया कि अरावली गोल्फ क्लब से लेकर दूसरे पयर्टन निगमों में एक ही कमरा एक नाम पर चलता रहता है,, जबकि उसे कई लोगोंं को घंटो के हिसाब से उठाकर निगम को घाटा पंहुचाया जा रहा है। अगर उनकी मांगे नही मानी गई तो वे दो सितम्बर को हड़ताल करेगें और फिर इससे भी बड़ा आंदोलन हो सकता है।



loading...
SHARE THIS

0 comments: