Saturday, August 6, 2016

फरीदाबाद पहुंचे शक्ति कपूर ने कहा कि मैं सिर्फ मूमेंट के लिये जीता हूँ




फरीदाबाद- अगस्त 06,2016(abtaknews.com) 
 बॉलीबुड जगत को लगभग सभी भाषाओं में 720 फिल्में देने वाले मशहूर फिल्म अभिनेता शक्ति कपूर ने  एक प्रेसवार्ता में अपने जीने का राज खोलते हुए कहा है कि वो सिर्फ मूमेंट के लिये जीते हैं, शक्ति कपूर सूरजकुंड के एक होटल में उद्योगपति प्रदीप मोहनती द्वारा बनाई गई अपनी ही कंपनी के कर्मचारियों की एक किक्रेट टीम के विदेशी दौरे को लेकर की गई प्रेसवार्ता में पहुंचे, जहां उन्होंने बॉलीबुड से जुडे कई राजों के बारे में बताया, इतना ही नहीं शक्ति कपूर किक्रेट के भी शौकीन है और वो क्रिकेट टी के साथ 7 दिन के विदेशी दौरे पर भी जा रहे हैं जहां वो अपने 7 दिनों अपने बचपन को जीयेंगे। इस क्रिकेट टीम का नाम वन टीम वन ड्रीम रखा गया है कि क्योंकि इस टीम उन युवाओं को मौका दिया गया है जिनके अंदर क्रिकेट है मगर कई कारणाों की बजय से क्रिकेट नहीं खेल पाये।

क्लच हैमर कंपनी के चेयरमैन प्रदीप मोहनती आगामी आईपीएल में अपनी खुद की क्रिकेट उतार सकते हैं जिसके लिये वो लगातार प्रयास कर रहे हैं इसी प्रयास की कडी में प्रदीप ने कुछ ऐसे क्रिकेट प्रेमियों को अलग अलग क्षेत्रों से चुना है जो कि क्रिकेट खेलना चाहते थे मगर किन्ही कारणों से क्रिकेट  नहीं खेल पाये, जिनमें सबसे अधिक किक्रेट टीम के खिलाडी उनकी कंपनी से ही है, प्रदीप ने इस टीम को वन टीम वन ड्रीम नाम दिया है क्योंकि जो उन्होंने सपने देखे हैं उन्हें वो पूरा कर सकें, इसके लिये उनकी टीम 7 दिवसीय दौरे के लिये यूरोप जा रही है जहां 6 देशों की टीमों के बीच मैच खेले जायेंगे अगर उन्हें यूरोप में अच्छी सफलता मिलती है तो वो आईपीएल में अपनी टीम को उतारेंगे। अभी तक टीम की उपलब्धियों की बात करें तो उनकी टीम दो बार सीएम कप की विजेता रह चुकी है। इतना ही नहीं उन्होंने अपनी टीम के ब्रांड एम्बेसडर फिल्म अभिनेता शक्ति कपूर को भी यूरोप के लिये आंमत्रित किया है जो कि टीम को अपना अनुभन देंगे। 

वहीं वन टीम वन ड्रीम क्रिकेट टीम के लिये प्रेसवर्ता में पहुंचे मशहूर फिल्म अभिनेता शक्ति कपूर ने बताया कि बचपन से ही उन्हें किक्रेट खेलना का बहुत शौक रहा है न जाने कैसे वो बॉलीबुड में पहुंच गये इसलिये वो इस टीम के साथ मिलकर अपने बचपन को जीना चाहते हैं। इसलिये वो 7 दिन के यूरोप दौरे पर टीम के साथ जायेंगे। वहीं शक्ति कपूर ने अपने फिल्मी जिंदगी के बारे में बताते हुए कहा कि उनकी एक फिल्म के डायलॉग ने लगभग दो दर्जन से भी ज्यादा युवाओं को जेल पहुंचा दिया था और वो डायलॉग तोहफ फिल्म का- आऊऊ .. था। जिसका क्रेज युवाओं एक सिर पर ऐसा चढकर बोला कि युवकों ने कालेजों के बाहर लडकियों को आऊऊ बोलकर छेडना शुरू कर दिया जिसके चलते उन्हें जेल भी जाना पडा मगर उनकी फिल्म हिट हो गई और वो भी प्रसिद्ध हो गये। कपूर ने कहा कि अब तक सभी भाषाओं में लगभग 720 फिल्में कर चुके हैं जो कि आज तक किसी ने भी नहीं की हैं, ये उपलब्धि केवल उन्ही के पास है। उन्होंने अपने जीने का राज खोलते हुए कहा कि वो मूमेंट के लिये जीते है जिंदगी में मूमेंट नही तो कुछ भी नहीं है।
इतना ही नहीं कपूर ने जल्द आने वाली फिल्म रणभूमि के बारे में कहा कि रणभूमि में वो एक किन्नर का मैन रॉल प्ले कर रहे है जिसमें सरकार से मांग की जाती है कि किन्नरों को भी आम लोगो की तरह समाज में बराबरी का हक मिलना चाहिये। चाहे वो सरकारी नौकरी की बात हो या फिर बार्डर पर देश के लिये लडने की बात हो क्योंकि एक किन्नर में आम इंसान के ताकत से लगभग 10 प्रतिशत ताकत ज्यादा होती है। इस फिल्म में उन्होंने दर्शाया है कि एक सडक पर भीख मांगने वाली किन्नर कैसे सीएम की कुर्सी तक पहुंच जाती है।

साथ-साथ कपूर ने अपनी बेटी श्रद्धा कपूर की बॉलीबुड में सफलता पर खुशी जाहिर  करते हुए कहा है कि आज कल के बच्चों को कुछ सिखाने की जरूरत नहीं होती वो खुद ही मां बाप को सिखा देते हैं।  जल्द ही रिलीज होने वाली हसीना फिल्म में उनकी बेटी श्रद्धा और बेटा दोनों भाई बहन का रॉल प्ले करेगे।बॉलीवुड अभिनेता शक्ति कपूर सूरजकुंड के एक फाइव स्टार होटल में आयोजित एक कार्यक्रम में पहुंचे, केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पल गुर्जर, भाजपा नेता उमाशंकर गर्ग, भाजपा नेता संदीप चपराना, अमित मिश्रा,यशपाल यादव, अनिल विकल भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: