Tuesday, August 2, 2016

बेटीयां से होता है एक सभ्य समाज का निमार्ण;-जिला प्रमुख चमेली देवी सोलंकी


पलवल,02 अगस्त,2016(abtaknews.com)एक बेटी ही समाज को सजाने और संवारने का काम करती है। बेटी बगैर किसी भी समाज का विकास संभव नही है। उक्त विचार पलवल जिला परिषद की चैयरमेन चमेली देवी सोलंकी ने गांव पिंघौर में एक परिवार को बेटी के जन्म पर बधाई देते हुए व्यक्त किऐ। जिला प्रमुख ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बेटी बचाओ-बेटी पढाओं योजना खूब रंग ला रही है। और आज विकास के सभी क्षेत्रों में बेटीयां लडकों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पहले गांवो में बेटीयों के जन्म पर परिवार में खुशीया नही मनाई जाती थी। क्योंकि उस समय लडकीयों को घर से बाहर नही निकलने दिया जाता था और ना ही दूसरे क्षेत्रों में उनकों काम करने का मौका मिलता था। लेकिन अब समय बदल रहा है। आज बेटीयां पढ रही है और आगे भी बढ रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने बेटीयों को पढाने व आगे बढाने के लिए कई अलग-अलग प्रकार की योजनाएं चला रखी है। उन्होंने कहा कि अगर बेटीयों को पैदा होने ही नही दिया जायेगा। तो हम अपना व अपने समाज का भविष्य खतरे में डाल रहे है। क्योंकि एक बेटी ही घर को सजाती,संवारती है उन्होंने कहा कि घर से समाज,समाज से देश का विकास होता है। उन्होंने कहा कि तकनिकी के क्षेत्र में भी लडकीयां अपना नाम रोशन कर रही है। उन्होनें कल्पना चावला का उदाहरण देते हुए कहा कि गांवो में पैदा होने वाली लडकीयां में भी प्रतिभा की कमी नही होती। इस अवसर पर उन्होंने परिवार को बेटी के जन्म पर मिठाई खिलाकर बधाई दी। और बेटी बचाओ-बेटी पढाओं अभियान को सफल बनाने के लिए आवाहन किया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: