Sunday, August 28, 2016

त्रिपुरा के अगरतला में दिव्यांगजनों को सहायक साधनों और उपकरणों का वितरण


केंद्र सरकार ने दिव्यांगजनों को मानव संसाधन के एक अभिन्न अंग के रूप में मान्यता दी है और वह देश में दिव्यांगजनों के लिए प्रतिबद्ध है। दिव्यांगों के सशक्तिकरण की दिशा में प्रतिबद्धता को पूर्ण करते हुए, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत कृत्रिम अंग निर्माण निगम (एलिम्को), कानपुर के द्वारा भारत सरकार की योजना एडीआईपी के तहत दिव्यांगजनों को सहायक साधन और उपकरणों के निःशुल्क वितरण के एक शिविर का आज आयोजन किया गया। यह आयोजन त्रिपुरा के सामाजिक कल्याण और सामाजिक शिक्षा विभाग एवं त्रिपुरा के अगरतला में पश्चिम त्रिपुरा के जिला प्रशासन के करीबी सहयोग के साथ किया गया।


इस कार्यक्रम का उद्घाटन त्रिपुरा के मुख्यमंत्री श्री माणिक सरकार के द्वारा किया गया और इस अवसर पर सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री श्री कृष्णपाल गुर्जर मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। इस अवसर पर, सम्मानित अतिथि के रूप में त्रिपुरा सरकार की सामाजिक कल्याण मंत्री श्रीमती बिजिता नाथ और विशेष अतिथि के रूप में त्रिपुरा से राज्यसभा सदस्य श्री झरना दास वैद्य भी उपस्थित थे।
कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि राज्य मंत्री श्री कृष्ण पाल गुर्जर ने घोषणा की कि राज्य में सभी बधिर व्यक्तियों को सुनने में सहायता देने वाले उपकरण प्रदान किए जाएंगे और राज्य में ब्रेल पुस्तकों की छपाई के लिए ब्रेल प्रेस हेतु अनुदान प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिव्यांगों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए राज्य में एक समग्र पुनर्वास केंद्र भी स्थापित किया जाएगा। उन्होंने यह भी घोषणा की कि राज्य सरकार की अपील पर अन्य पिछड़े वर्ग और अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए 100 बिस्तरों की सुविधा से युक्त छात्रावास की भी स्थापना की जाएगी।
इस अवसर पर अपने संबोधन में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री श्री माणिक सरकार ने मंत्री महोदय और उनके विभाग को एडीआईपी योजना के अंतर्गत उत्कृष्ट कार्य करने के लिए बधाई दी। उन्होंने घोषणा की कि राज्य के शेष 7 जिलों में बधिर व्यक्तियों के लिए एडीआईपी शिविर के अंतर्गत सर्वेक्षण करने के लिए सभी सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में दिव्यांगो को महाराष्ट्र सरकार की योजनाओं से मिलने वाले लाभ के लिए इनके सफल कार्यान्वयन की दिशा में पूरी सहायता प्रदान की जाएगी।
सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के संयुक्त सचिव श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने जानकारी दी कि त्रिपुरा ने सभी दिव्यांगजनों का सर्वेक्षण किया है और राज्य में यूनिवर्सल आईडी स्कीम के शुभारंभ के लिए प्रशिक्षण प्रदान किए जा चुके हैं। शिविर में दिव्यांगजनों के लिए विभिन्न प्रकार के सहायता उपकरण प्रदान किए गए।
इस अवसर पर एलिम्को के मुख्य प्रबंध निर्देशक श्री डी.आर.सरीन के अलावा स्थानीय प्रतिनिधि और जिला प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: