Saturday, August 6, 2016

आज दुनिया में कुश्ती लोकप्रिय खेल बन गया है;- कृष्णपाल गुर्जर



फरीदाबाद-06 अगस्त,2016(abtaknews.com ) केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि कुश्ती खेल भारतीय संस्कृति से जुड़ा अह्म खेल है और आज ऐसे खेलों की बदौलत ही भारत की पहचान विश्व स्तर पर है। उन्होंने कहा कि हमारे खिलाडिय़ों ने कुश्ती में पूरे विश्व में नाम रोशन किया है, आज भी हमारे देश के खिलाड़ी रियो ओलंपिक में भाग लेकर भारत का  प्रतिनिधित्व करते हुए गोल्ड व सिल्वर मैडल जीतने की तैयारी में जुटे है। श्री गुर्जर आज हरियाली तीज के अवसर पर तिगांव के सरकारी हाई स्कूल में हर साल होने वाले ऐतिहासिक दंगल में बतौर मुख्यातिथि उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में वरिष्ठ भाजपा नेता राजेश नागर मौजूद थे। श्री गुर्जर एवं राजेश नागर कुश्ती प्रतियोगिता में भाग लेने वाले पहलवानों का परिचय लेते हुए उनकी हौंसला अफजाई की। इस मौके पर चौरासीपाल की सरदारी सहित गांव के मौजिज लोगों ने कृष्णपाल गुर्जर एवं राजेश नागर का पगड़ी बांधकर एवं फूल मालाओं से भव्य स्वागत किया। कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि कुश्ती खेल ग्रामीण आंचल का खेल है और पुराने समय में इसको लेकर युवाओं में खासा उत्साह होता है, आधुनिक युग मेें इस खेल का स्वरूप बदला है और अब यह खेल ग्रामीण स्तर पर ही नहीं बल्कि शहरी स्तर पर भी खासा लोकप्रिय है। इस मौके पर भाजपा नेता राजेश नागर ने कहा कि खेलों से जहां मनुष्य का शारीरिक व मानसिक विकास होता है वहीं आपसी भाईचारा भी बढ़ता है इसलिए ऐसे आयोजनों का अधिक से अधिक होते रहना जरूरी है क्योंकि ऐसे आयोजनों से समाज में एकता व भाईचारे का संदेश जाता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार कुश्ती खेल को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रयासरत है और आने वाले समय में ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक से अधिक खेल स्टेडियम बनाए जाएंगे ताकि उभरती प्रतिभाओं को बेहतर मंच उपलब्ध हो सके। कुश्ती प्रतियोगिता में 5100 रूपए की 11 कुश्ती हुई, जिसमें से दो कुश्ती पहलवानों ने जीती, जबकि 9 कुश्ती बराबरी पर छूटी। वहीं 11 हजार की 5 कुश्तियां राकेश बनाम गौरव, मंदीप बनाम कृष्ण, जीतू बनाम आदिब, गोलू बनाम पवन, नीरज बनाम अजय के बीच बराबरी पर छूटी। इसके अलावा 21 हजार की कुश्ती मंजीत बनाम चित्रा के बीच हुई, जिसमें चित्रा ने जीत हासिल की, जबकि संजय गुर्जर और सुशील, जीतू बनाम पंकज एवं जगबीर बनाम रेशम के बीच हुई कुश्ती बराबरी पर रही। वहीं 51 हजार रूपए की कुश्ती भारत केसरी नवीन मोर एवं सुरजीत के बीच हुई, जो बराबरी पर रही। केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर एवं भाजपा नेता राजेश नागर ने विजेता खिलाडिय़ों को पुरस्कार देकर सम्मानित करते हुए उनकी हौंसला अफजाई की। इस अवसर पर पप्पू सरपंच, राजपाल नागर, रिंकू जौडला सरपंच, पूर्व सरपंच प्रताप नागर, सुरेश अधाना, मास्टर धर्मवीर नागर, रघुबीर जैलदार, अजीराम अधाना, अमन नागर, मास्टर सतबीर नागर, संतराम शास्त्री, सूबेदार नत्थीराम, कर्नल जेसी अधाना, बाबा चरसी, चंद्रमल नागर, बीपी नागर, रतन अधाना, संजय अधाना, योगेश अधाना, सुरेश वर्मा, बीडीपीओ इंद्रपाल नागर, कंवरलाल खलीफा, बाबू अधाना, कालू पहलवान, धर्मबीर खलीफा, खेमचंद पहलवान, देवदत्त पहलवान, सुरजीत अधाना, सतबीर खलीफा, जगदीश अधाना सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: