Monday, August 8, 2016

शिक्षामंत्री की वायदा खिलाफी से गुस्साए युवा आगाज ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन




फरीदाबाद-08अगस्त,2016 (abtaknews.com ) छात्रों के एडमिशन के लिए संघर्ष कर रहे युवा आगाज संगठन ने मुख्यमंत्री के नाम लघुसचिवालय पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए जिला उपायुक्त की अनुपस्थिति में जिला पंचायत अधिकारी नरेन्द्र सिंह को ज्ञापन सोंपा और मांग की कि जल्द से जल्द छात्रों के प्रवेश की प्रक्रिया शुरू करवाई जाये। शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा की घोषणा के बाद लगभग 15 दिनों से छात्र कालेजों में प्रवेश लेने के लिये चक्कर पर चक्कर काट रहे हैं मगर काजेल प्रबंधन पर कोई भी सूचना न होने के कारण छात्रों का कालेज में प्रवेश नहीं लिया जा रहा है जिनकी मांग को लेकर युवा आगाज छात्र संगठन के कार्यकर्ता घोषणा के बाद से ही लगातार अधिकारियों और नेताओं प्रदर्शन कर अवगत करवा रहे हैं उसके बाद भी सरकार सुनकर भी अनसुनी कर रही है।
लगातार प्रदर्शन से परेशान हो चुके छात्र संगठन ने आज लघुसचिवालय पर जिला उपायुक्त कार्यालय के सम्मुख प्रदर्शन किया और अपनी मांग को एक पत्र में लिखकर सीएम के लिये उपायुक्त की अनुपस्थिति में जिला पंचायत अधिकारी को सौंपा। इस अवसर पर युवा आगाज छात्र संगठन के संयोजक जसवंत पवार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि भाजपा सरकार निजी संस्थानों को लाभ पहुंचाने के लिये अपने वायदे से मुकर रही है और छात्रों के साथ वायदा खिलाफी कर रही है, जिससे सभी छात्रों में सरकार के प्रति भारी रोष है, इसलिये छात्र नेता जसवंत पवार ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर आने वाले दो दिन के अंदर कालेजों में सीटों नहीं बढाई गई तो छात्र फिर उग्र प्रदर्शन करेंगे। वहीं छात्र संगठन के कार्यकर्ता अजय डागर का कहना है कि शिक्षामंत्री रामबिलास शर्मा छात्रों के साथ धोखा कर रहे हैं उनके जीवन के साथ खिलवाड कर रहे हैं बडे बडे वायदे करने वाली इस सरकार ने ये दिखा दिया है कि ये सरकार वायदा खिलाफी करने वालों की सरकार है।
इस प्रदर्शन एवं ज्ञापन देने वालों में मुख्यरूप से छात्र नेता अजय डागर के नेतृत्व में, धर्मबीर, विशाल पलवल, पवन, अमित, आकाश, अरूण, अमन, जयप्रकाश, सिकंदर, विकास, पवन, दीपक, रवि, सागर, संजू, विजय, बिजेंद्र, विवेक, ज्योति, पूनम, पिंकी, राजेंद्र, चंद्रपाल, वेद प्याला, मनीष जाखड, उमेश अलालपुर, दिनेश रावत, आनंद तंवर शामिल थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: