Monday, August 15, 2016

देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों को शुभकामनाएं ;- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्रीश्री नरेन्द्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से आज 15 अगस्त के पावन अवसर पर देश के सवा सौ करोड़ देशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं। एक भारत, श्रेष्ठ भारत बनाने की कोशिश करें। स्वराज को सुराज बनाने का संकल्प लें।इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह राजघाट पहुंचे और उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को श्रृद्धाजंलि दी। फिर इसके बाद वह अपने काफिले के साथ लाल किला पहुंचे। वैसे 15 अगस्त के मौके पर दिल्ली में सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम हैं। दिल्ली पुलिस के तकरीबन 10 हजार जवान और अर्धसैनिक बल राजधानी और लाल किले की सुरक्षा में तैनात रहेंगे।आजादी के जश्न में खलल रोकने के लिए देश के चप्पे-चप्पे पर कड़ा पहरा है। आतंकी खतरे के मद्देनजर दिल्ली से लेकर मुंबई तक जमीन, हवा और पानी पर सुरक्षा पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। दिल्ली, जम्मू, हैदराबाद, चेन्नई समेत देश के अलग अलग हिस्सों में पुलिस और सुरक्षाबल लगातार लोगों और गाड़ियों की तलाशी ले रहे हैं। किसी भी संदिग्ध गाड़ी या फिर शख्स को बिना चेकिंग के जाने नहीं दिया जा रहा है।राजधानी दिल्ली में सुरक्षा बलों को उच्च सतर्कता पर रखा गया है। करीब 45,000 जवानों को शहर भर में तैनात किया गया है। लाल किला और आसपास के इलाकों में सुरक्षा बढ़ाने के अलावा पूरी राजधानी में खासतौर पर बाजारों, मॉल्स और भीड़-भाड़ वाले इलाकों में सुरक्षा बढ़ाई गई है।अधिकारियों ने कहा कि जमीन और आसमान में सुरक्षा के लिए 17वीं शताब्दी के लाल किले पर उपकरण लगाए गए हैं, जहां से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को तीसरी बार संबोधित करेंगे। दिल्ली की सड़कों पर वाहनों और चालकों की जांच के लिए सैकड़ों पुलिस अवरोधक लगाए गए हैं।अधिकारी ने कहा कि लाल किले के सामने और आसपास के रिहायसी इलाकों की अच्छी तरह से जांच की गई है। दिल्ली और आसपास के इलाकों में पुलिस ने होटलों और अतिथि गृहों की जांच की है। मुगल स्मारक और इससे लगे पांच किमी के इलाके में दिल्ली पुलिस के करीब 9,000 सुरक्षाकर्मी, अर्धसैनिक बलों और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) की तैनाती की गई है।सैकड़ों अतिविशिष्ट अतिथि आज लाल किले पर होने वाले इस समारोह में भाग लेंगे। इसमें वरिष्ठ राजनेता, राजनयिक और सैन्यकर्मियों के अलावा हजारों आम नागरिक और बच्चे शामिल होंगे। समारोह स्थल की जमीनी सुरक्षा के साथ हवाई सुरक्षा व्यवस्था भी की गई है।
15 अगस्त को भारत के अलावा आजाद हुए थे दुनिया के तीन देश---लालकिले में और चारों तरफ करीब 500 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इस विशाल स्मारक पर उच्च-रिजोल्यूशन क्षमता वाले कैमरे लगाए गए हैं। पुलिस ने सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए करीब 3,000 पेड़ों की छंटाई की है।15 अगस्‍त को मिली देश को आजादी--सुरक्षा अधिकारियों को मुख्य बाजारों, हवाईअड्डा, रेलवे स्टेशन और अंतरराज्यीय बस टर्मिनल, दिल्ली मेट्रो स्टेशन और सामरिक महत्व के स्थलों पर तैनात किया गया है। लाल किले की तरफ जाने वाले मार्गो -नेताजी सुभाष मार्ग, एसपी मुखर्जी मार्ग, चांदनी चौक रोड, निषाद राज मार्ग और लिंक रोड को सोमवार सुबह पांच बजे से चार घंटों के लिए सामान्य यातायात के लिए बंद किया गया है।
आजादी  के जश्न के अपने-अपने तरीके 
1- देश के अलग-अलग हिस्सों में लोग अपने अपने तरीके से जश्न मना रहे हैं। वाराणसी में जगदीश पिल्लई नाम के एक शख्स ने 210 किलो के 70 केक में 70 हजार मोमबत्तियां जलाकर अमेरिका के विश्व रिकार्ड को तोड़ने की कोशिश की। जगदीश का कहना है कि लोग अपना जन्मदिन केक काटकर मनाते हैं लेकिन उन्होंने आजादी की वर्षगांठ पर केक काटकर जश्न मनाया। इसके साथ ही युवाओं में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर टैटू बनवाने का क्रेज भी दिखा।
2- लोगों में देश भक्ति का जज्बा जगाने के लिए जबलपुर में अखंड भारत यात्रा निकाली गई। इस अखंड भारत यात्रा में करीब 100 लोगों ने उफनती नर्मदा नदी में उतरने से भी गुरेज नहीं किया। इन लोगों ने हाथों में तिरंगा लेकर 10 किलोमीटर की यात्रा तैरते हुए तय की। ग्वारीघाट से तिलवाराघाट तक जाने वाली इस यात्रा को लेकर लोगों में काफी उत्साह था। यात्रा में शामिल होने आये लोगों का कहना है की देश की आजादी की ख़ुशी और देश में अखंडता बनी रहे इसके लिए युवाओं में देश भक्ति की भावना पैदा इस यात्रा का मकसद है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: