Monday, August 1, 2016

जीडीप्रो का अगस्त 6 को समापन, 1 लाख के प्राइज मिलेंगे विजेताओं को


फरीदाबाद-01 अगस्त, 2016(abtaknews.com ) मानव रचना शैक्षणिक संस्थान (एमआरईआई) ने प्रतिस्पर्धा के दौर में स्कूली स्टूडेंट्स को अगले पायदान के लिए तैयार करने की ओर कदम बढ़ाया है। जीडीप्रो 2016 के साथ स्कूली स्टूडेंट्स को ग्रुप डिस्कशन के माध्यम से प्रतिस्पर्धा के लिए तैयार किया जा रहा है। सोमवार को जीडीप्रो 2016 का आगाज किया गया। चार्मवुड स्थित मानव रचना इंटरनैशनल स्कूल में हरियाणा क्षेत्र के जीडीप्रो के प्रारंभिक व क्वाटरफाइनल दौर का आयोजन किया गया। इसमें राज्य के 25 से अधिक स्कूलों के करीब 1500 स्टूडेंट्स ने अलग-अलग मुद्दों पर अपनी मानसिक विचारधारा का परिचय दिया। जीडीप्रो 1 जून से 6 जून तक चलने वाला है। 6 जून का कार्यक्रम का समापन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में 6000 से अधिक स्टूडेंट्स हिस्सा लेने वाले हैं। जीडीप्रो एक ग्रुप डिस्कशन का माध्यम हैं, जहां स्टूडेंट्स अपने चुने गए विषयों पर आपस में ग्रुप डिस्कशन करते हैं। जीडीप्रो में क्लास 8वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स हिस्सा ले रहे हैं। मानव रचना साल 2013 में जीडी मेनिया 2013, जीडीप्रो 2014, जीडीप्रो 2015 का आयोजन कर चुकी है। इस बार आयोजित किए जा रहे जीडीप्रो में स्कूलीं बच्चे हिस्सा ले रहे हैं। इस कार्यक्रम में विजेता स्टूडेंट्स को 1 लाख तक के इनाम से सम्मानित किया जाएगा। 
पहले दिन स्टूडेंट्स ने अलग अलग मुद्दों पर चर्चा की। इसमें प्राइवेट टियूशन के बुरी है या अच्छी, भाषाओं के लुप्त होने व लैंगिंग समानता सच है या केवल भ्रम, आज के समय में साइंस की जरूरत नई खोजें हैं आदि जैसे विषयों पर चर्चा की।
कार्यक्रम के उद्घाटन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे एमआरईआई के एमडी व मानव रचना यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. संजय श्रीवास्तव ने कहा कि जीडीप्रो का मकसद नॉर्थ इंडिया के बच्चों को प्रतिस्पर्धा के दौर के लिए तैयार करना है। ग्रुप डिस्कशन स्टूडेंट्स की मानसिकता का विकास करता है और वह भविष्य में आने वाली चुनौतियों ेक लिए खुद को तैयार करते हैं। उन्होंने अभिभावकों व स्टूडेंट्स का आभार व्यक्त किया और कहा कि आने वाले समय में यह कदम पूरे देश के स्कूली बच्चों को फायदा देने के लिए उठाया जाएगा। वहीं जीडीप्रो 2016 के प्रायोजकों में शामिल परफैक्ट बेक ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री एच.के.बतरा ने कहा कि जीडीप्रो को स्टूडेंट्स की बहुत अच्छी प्रतिक्रिया मिली है। उन्होंने एमआरईआई को बधाई दी और कहा कि मानव रचना ने स्टूडेंट्स को अपने विचार प्रस्तुत करने व बेहतर कम्युनिकेशन का जो माध्यम दिया है वह सराहनीय है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: