Saturday, August 13, 2016

हरियाणा में 2019 में पेंशन 2000 रुपये प्रतिमास मिलेगी ;- मनोहर लाल



चण्डीगढ़, 13 अगस्त,2016(abtaknews.com )हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सामाजिक सुरक्षा के तहत वृद्धों को दी जा रही पेंशन को शीघ्र ही 1400 रुपये से बढ़ाकर 1600 रुपये किया जाएगा और जनवरी, 2019 में यह पेंशन 2000 रुपये प्रतिमास हो जाएगी। इसके अतिरिक्त हिसार में 3200 एकड़ भूमि पर हवाई अड्डा बनाने और बरवाला हल्के के विकास के लिए 100 करोड़ रुपये से अधिक की नई परियोजनाओं की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री आज बरवाला हल्के की कपास मंडी में आयोजित विशाल विकास रैली को सम्बोधित कर रहे थे। इस मौके पर वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, सीपीएस डा. कमल गुप्ता व रैली के संयोजक व जिला भाजपा प्रधान सुरेन्द्र पुनिया भी मौजूद थे। 
उन्होंने कहा कि बरवाला हल्के के विकास में कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी। सौभाग्य की बात है कि हिसार में बनने वाले हवाई अड्डे का क्षेत्र भी बरवाला विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत आता है। इस परियोजना के आने से हल्के के विकास को और गति मिलेगी। हवाई अड्डा लगभग 3200 एकड़ भूमि पर बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बरवाला उप मण्डल में नया सचिवालय भवन बनाया जाएगा। इसके अलावा स्वास्थ्य सुविधाओं में बढोतरी के लिए 50 बिस्तरों का अस्पताल भी बनाया जाएगा। भीड़ से उत्साहित मुख्यमंत्री ने हल्के के विकास के लिए अनेक नई घोषणाएं की जिसका लोगों ने तालियों की गडग़ड़ाहट के साथ स्वागत किया। जनता ने सरकार को पांच साल के लिए चुना हैं और सरकार की मंशा है कि सरकार इन पांच सालों में पिछले 30 सालों में हुए कार्यों के बराबर विकास कार्य करेगी। 
उन्होंने कहा कि जनता के सहयोग से भ्रष्टाचार रूपी रोग को जड़मूल से उखाड़ देंगे। ना भ्रष्टाचार फैलाएंगे और ना ही फैलाने देंगे। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के आरोपी को किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ा जाएगा और उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस बारे सीएम विंडों में कहीं से भी शिकायत की जा सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में तीन लाख कर्मचारी हैं। पिछली सरकारों ने नियमों को ताक पर रखकर भर्ती की थी। वर्तमान सरकार कर्मचारियों की कमी को दूर करने के उद्ेश्य से सी व डी ग्रुप की 50 हजार नई भर्तियां करेगी। नौकरियां योग्यता के आधार पर की जाएगी और किसी के साथ किसी भी प्रकार का कोई भेदभाव नहीं बरता जाएगा। अच्छे व योग्य आदमियों की भर्ती से लोगों को बेहतर सेवाएं उपलब्ध होंगी। 
उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसी भी विधानसभा क्षेत्र में चाहे किसी भी दल का विधायक हो विकास के मामले में किसी भी क्षेत्र से भेदभाव नहीं किया जाएगा। सरकार क्षेत्रवाद से ऊपर उठकर समान विकास कार्य करवा रही है। हमारी सरकार पूरी ईमानदारी से विकास कार्य करवा रही है, इसलिए हमेें किसी भी जांच का डर नहीं है। प्रदेश में रोजगार के अवसर बढाने के उद्ेश्य से कौशल विकास योजना के तहत प्रदेश के युवाओं को रोजगारपरक प्रशिक्षण दिए जा रहे हैं, जिससे ये लोग स्वयं का रोजगार स्थापित कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि गुणवत्तापरक शिक्षा वर्तमान समय की मांग है। पूर्व की सरकारों में शिक्षा प्रणाली कैसी रही है, इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि बिना परीक्षा लिए ही परीक्षार्थियों को अगली कक्षा में दखिला दे दिया जाता था। विद्यार्थी के बौद्धिक स्तर का आंकलन अति आवश्यक है, उसके बाद ही उसे अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाए। सरकार ने यह फैसला लिया है कि अब सभी कक्षाओं में परीक्षाएं होंगी। 
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार किसान, मजदूर, व्यापारी, कर्मचारी, अनुसूचित जाति सहित अन्य वर्ग की हितैषी सरकार है। लोगों की सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा के मद्देनजर तरह-तरह की बीमा योजनाएं लागू की हैं। इसी प्रकार समाज कल्याण विभाग द्वारा दी जा रही पैंशन शीघ्र ही 1400 से बढाकर 1600 रुपये कर दी जाएगी। जनवरी, 2019 में 2000 रुपये प्रति माह हो जाएगी। किसान का नुकसान नहीं होना चाहिए, इसलिए फसल खराबे की मुआवजा राशि भी बढाई गई है। महिलाओं को मिट्टी के तेल व लकडिय़ों से खाना ना पकाना पड़े, इसलिए गरीबी से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को  सरकार गैस सिलेण्डर उपलब्ध करवाकर प्रदेश को केरोसीन मुक्त बनाएगी। उन्होंने उपस्थित लोगों का आहवान किया जगमग गांव म्हारा गांव योजना एक महत्वपूर्ण योजना है, इसे लागू करने में आम आदमी को सहयोग करना चाहिए। प्रदेश की बिजली व्यवस्था में सुधार लाने के लिए बिजली बोर्डों के घाटे को पाटना बेहद जरूरी है। हरियाणा सरकार जीरो टोलरेंस नीति पर भ्रष्टाचार मुक्त व जवाबदेही पर काम कर रही है। 
समारेाह को सम्बोधित करते हुए वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि भाजपा सरकार सबका साथ, सबका विकास, हरियाणा एक हरियाणवी एक के सिद्धांत पर काम कर रही है। कुछ दिन पूर्व कुछ राजनेताओं ने आरक्षण के नाम पर अपने राजनैतिक स्वार्थ के लिए प्रदेशवासियों को बांटने का प्रयास किया था, परन्तु हरियाणावासी उनके झांसों में नहीं आया। गत 21 महीनों में सरकार ने प्रदेश में सराहनीय कार्य किया है। भ्रष्टाचार पर प्रभावी अंकुश लगाया है व प्रशासन को जवाबदेही बनाने की दिशा में अग्रसर है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अन्य हलकों की तरह ही बरवाला हलके के विकास के लिए सरकार के पास अनेक योजनाएं हैं और शीघ्र ही उन्हें क्रियान्वित किया जाएगा। 
समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला ने देश के 70वें स्वतंत्रता दिवस समारोह की बधाई दी और कहा कि भाजपा सरकार हमेशा से ही किसान, मजदूर हितेषी रही है। हरियाणा बनने से आज तक किसी ने भी किसान हित में इतनी योजनाएं नहीं बनाई व क्रियान्वयन की, जितनी भाजपा सरकार ने की। पहले जहां किसानों को खाद व बीज भी लाईन में लेना पड़ता था, आज प्रदेश में उच्च गुणवत्ता की खाद, बीज व किटनाशक दवाओं की कमी नहीं है। प्रदेश में लाईन हैं, तो केवल विकास कार्यों की। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया अथवा ई-गवर्नेंस के माध्यम से पारदर्शिता आई है और गत सरकारों में किए गए तरह-तरह के फर्जीवाड़ों की जानकारी भी आई है। भाजपा सरकार जो भी घोषणा करती है, उसे पूरा करती है। किसान, मजदूरों के जोखिम को कम करने के लिए सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा के लिए फसल व अन्य बीमा योजनाएं लागू की हैं। उन्होंने किसानों आहावान किया कि वे परम्परागत खेती से हटकर फसल विविधिकरण पर ज्यादा ध्यान दें। प्रदेश के मौसम के अनुकूल उन फसलों का चयन करें, जो ज्यादा आमदनी देने वाली है।  
समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य संसदीय सचिव डा. कमल गुप्ता ने कहा कि हिसार में हवाई अड्डा बनने से प्रदेश का चहुमुखी विकास होगा और तरह-तरह के उद्योग धंधे लगेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सडक़ों का जाल बिछाया जा रहा है, इससे यातायात व्यवस्था बेहद सुगम हो जाएगी। समारेाह को सम्बोधित करते हुए रैली संयोजक एवं बीजेपी जिला प्रधान सुरेन्द्र पुनियां ने रैली में आए सभी नेताओं व लोगों का स्वागत किया। उन्होंने बरवाला की जनता की तरफ से हलके के विकास को गति देने के लिए मुख्यमंत्री के सम्मुख मांगे रखी। श्री पुनियां ने कहा कि हलके की जनता की हाजिरी यह साबित करती है कि प्रदेश की सरकार जनता के कल्याण के लिए न केवल दिनरात कार्य कर रही है अपितु स्वच्छ प्रशासन देने में भी कामयाब रही है। सरकार मेेंं जनता का विश्वास बढा है और आम आदमी को विकास में भागीदार बनाया गया है। उन्होंने कहा कि जनता की भावनाओं के अनुरूप मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी विकास कार्यों की झड़ी लगाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। उन्होंने रैली में आई भारी भीड़ का आभार भी व्यक्त किया। रैली के समापन पर जिला महामंत्री आशा खेदड़ ने सभी नेताओं व रैली में आए हुए सभी लोगों का धन्यवाद किया। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के ओएसडी भूपेन्द्र सिंह, हरियाणा पशुधन बोर्ड के चेयरमैन ऋषि प्रकाश शर्मा, हरियाण खादी बोर्ड के चेयरमैन संजय भाटिया, जिला परिषद अध्यक्ष ब्रहमदेव, उपायुक्त निखिल गजराज, पुलिस अधीक्षक अश्विन शैणी, एसडीएम बरवाला पृथ्वी सिंह, नगरपालिका बरवाला चेयरमैन प्रोमिला बादल, बरवाला पंचायत समिति के चेयरमैन पवन खेदड़, सीमा गैबीपुर, कर्ण सिंह रानोलिया, महामंत्री सुजीत कुमार, मंदीप मलिक, कृष्ण बिश्नोई, रवि सैनी, बीजेपी नेता योगेश सिहाग, गायत्री यादव, रामस्वरूप डाटा,  कैप्टन चांदी राम, मांगेराम वाल्मिकी, प्रताप जांगड़ा, केवल कृष्ण, टेकराम नायक, आनंद महता, हनुमान मित्तल, भीम सैन अग्रवाल, भीरू पुनियां, धूप सिंह सरपंच, नम्बरदार जिले सिंह, अमीरचंद चोपड़ा, रत्नलाल, बिशन ओढ, दयानंद शर्मा सहित बीजेपी के कई नेता व भारी संख्या में लोग उपस्थित थे। 
सूजसविह-2016 
चण्डीगढ़, 13 अगस्त - अनुसूचित जाति और अनुसूचित जन जाति तथा महिलाओं को स्टेंडअप इंडिया योजना के  तहत अपने स्वयं के उद्यम स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करने के दृष्टिगत हरियाणा में अब तक 281 लाभपात्रों को 54.45 करोड़ रुपये की राशि के ऋण स्वीकृत किए गये हैं। 
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि ग्रीन फील्ड उद्यम स्थापित करने के लिए 10 लाख रुपये और एक करोड़ रुपये के बीच की ऋण राशि की सुविधा के लिए 5 अप्रै्रल, 2016 को शुरू की गई इस योजना के तहत अब तक 196 महिलाओं को 38.20 करोड़ रुपये की ऋण राशि स्वीकृत की गई है। इसी प्रकार, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जन जाति केे व्यक्तियों को 16.25 करोड़ रुपये की राशि स्वीकृत की गई है। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत निर्माण, व्यापार और सेवाओं के क्षेत्र में गैर-कृषि उद्यमों को ऋण प्रदान किए जा रहे हैं, जिनकी ऋण आवश्यकता 10 लाख रुपये से नीचे है। उन्होंने कहा कि तीन श्रेणियों के तहत ऋण प्रदान किए जा रहे हैं, शिशु श्रेणी के तहत 50,000 रुपये तक के  ऋण कवर होते हैं, किशोर के अन्तर्गत 50,000 रुपये से अधिक और 5 लाख रुपये तक के ऋण कवर होते हैं तथा तरुण श्रेणी के तहत 5 लाख रुपये से अधिक 10 लाख रुपये तक ऋण कवर होते हैं। 
उन्होंने कहा कि इस योजना के अन्तर्गत 30 जून, 2016 तक 31,142 लाभपात्रों को 378.62 करोड़ रुपये वितरित किए गये, जिसमें 15,544 महिलाओं के 59.88 करोड़ रुपये की राशि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इसमें शिशु श्रेणी के तहत 21,359 लाभपात्रों को वितरित 58.38 करोड़ रुपये की ऋण राशि, किशोर श्रेणी के तहत 7371 लाभपात्रों को 149.68 करोड़ रुपये, तरुण श्रेणी के  तहत 2,412 लाभपात्रों को 170.55 करोड़ रुपये की ऋण राशि शामिल है। 
उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति का वित्तीय समावेश सुनिश्चित करने के उद्देश्य से 15 अगस्त, 2014 को शुरू की गई प्रधानमंत्री जन धन योजना के अन्तर्गत हरियाणा में 30 जून, 2016 तक 52.54 लाख बैंक खाते खोले गये। इनमें ग्रामीण क्षेत्रों के 27,85,386 खाते और शहरी क्षेत्रों के 24,68,918 बैंक खाते शामिल हैं। हरियाणा ऐसा चौथा राज्य बन गया है जिसने 18 दिसम्बर, 2014 तक सभी 48.58 लाख घरों को कवर करके उन्हें बैंक खाते खोलने की सुविधा प्रदान की है।
उन्होंने कहा कि इस योजना के  अन्तर्गत प्रदेश में अब तक 44,19,849 रूपे कार्ड जारी किए हैं, जो कुल लक्ष्य का 84 प्रतिशत है। आधार से जुड़े 38,84,170 बैंक खातों में ग्रामीण क्षेत्र के 20,41,961 खाते तथा शहरी क्षेत्रों में 18,42,209 पूरे किए गये हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना के अन्तर्गत 1,286.98 करोड़ रुपये की राशि जुटाई गई।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना 18 से 70 वर्ष की आयु के सभी बचत खाता धारकों को 12 रुपये के वार्षिक प्रीमियम पर दुर्घटना बीमा को कवर करती है। प्रदेश में 30 जून, 2016 तक 24,52,091 व्यक्तियों को प्रविष्ट किया गया है तथा 22,88,922 आवेदन अपलोड किए हैं। उन्होंने कहा कि इस योजना के अन्तर्गत 8.30 करोड़ रुपये की राशि के 418 दावे प्राप्त हुए हैं, 8.02 करोड़ रुपये की राशि के 404 मामले दर्ज किए गये हैं और 4.13 करोड़ रुपये की राशि के 207 मामलों का निपटान किया गया है।  
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना 18 से 50 वर्ष की आयु के सभी बचत बैंक खाता धारकों को 330 रुपये के वार्षिक प्रीमियम पर दो लाख रुपये का बीमा कवर प्रदान करती है, के अन्तर्गत 30 जून, 2016 तक प्रदेश में 8,01,234 व्यक्ति प्रविष्ट किए गये हैं और 7,11,618 आवेदन पत्र अपलोड किए गये हैं। इस योजना के अन्तर्गत 21.70 करोड़ रुपये की राशि के 1,085 दावे प्राप्त हुए हैं। 21.50 करोड़ रुपये की राशि के 1075 मामले दर्ज किए गये हैं और 17.18 करोड़ रुपये की राशि के 859 मामलों का निपटान किया गया है।
उन्होंने कहा कि अटल पेंशन योजना जो ग्राहकों के लिए गारंटिड न्यूनतम मासिक पेंशन प्रदान करती है के अन्तर्गत बैंकों ने 68,361 व्यक्तियों को प्रविष्ट किया है और 30 जून, 2016 तक 65,998 व्यक्तियों का रिकार्ड अपलोड किया गया है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: