Wednesday, August 10, 2016

जांच एजेंसियों का पहला राष्ट्रीय सम्मेलन 12-13 अगस्त को


नई दिल्ली(abtaknews.com)पुलिस अनुसंधान और विकास ब्यूरो (बीपीआरएण्डडी) राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (एऩआईए) के सहयोग से नई दिल्ली के विज्ञान भवन में 12-13 अगस्त, 2016 को जांच एजेंसियों के पहले सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। बीपीआरएण्डडी के शासनादेश और पुलिस महानिदेशकों तथा आर‍क्षी महानिदेशकों के सम्‍मेलन की सिफारिश में पुलिस और कानून लागू करने वाले अधिकारियों का सम्‍मेलन आयोजित करने को कहा गया था। 

इस सम्‍मेलन से कानून स्‍थापित करने वाली एजेंसियों के जांच के कार्य में लगे अधिकारियों को वार्षिक रूप से एक मंच उपलब्‍ध होगा। इसका उद्देश्‍य नये कानूनों और निर्णयों और जांच और मुकदमें की जटिलताओं पर विचार विमर्श करना है। इस सम्‍मेलन में नये कानून/आपराधिक कानून संशोधनों और जांच कार्य की नई चुनौतियों में हो रहे परिवर्तनों पर भी विचार होगा। तेजी से और पेशेवर रूप से जांच करने के लिए फोरेंसिक विज्ञान में आधुनिक तकनीक को अपनाने और जांच एजेंसियों द्वारा अपनाये जाने वाले श्रेष्‍ठ व्‍यवहारों पर भी सम्‍मेलन में चर्चा की जायेगी। 

आशा है कि सम्‍मेलन में विचार विमर्श से जांच की गुणवत्ता में सुधार होगा। सार्वजनिक रूप से जांच में गुणवत्ता सुधार की मांग काफी समय से होती रही है। जांच कार्य श्रेष्‍ठ विशेषज्ञ आर्थिक और संगठित अपराध, डि‍जिटल और टेक्‍नॉलाजी प्रेरित अपराध, आतंकी अपराध जांच, जांच से संबंधित कानूनी विषयों, राज्‍यों के विचार तथा श्रेष्ठ व्‍यवहारों को साझा करने जैसे विषयों पर प्रकाश डालेंगे। 

इस सम्‍मेलन से जांच अधिकारियों को वित्तीय गुप्‍तचर यूनिट (एफआईयू) की भूमिका और कार्य तथा जांच एजें‍सी के साथ सहयोग, भारतीय द्रव्‍य प्रवर्तन व्‍यवस्‍था और जांच एजेंसी की भूमिका, प्रवर्तन निदेशालय और जांच एजेसिंयों के बीच सहयोग, आतंकवादियों द्वारा सोशल मीडिया के उपयोग से जुड़ विषयों और इनसे मुकाबला तथा आतंकी अपराधों की जांच के बारे में व्‍यापक रूप से जानकारी हासिल करने का मौका मिलेगा। सम्‍मेलन में साईबर अपराध, रणनीतिक उत्तर और अंतर्राष्‍ट्रीय अनुभव के साथ-साथ जांच में सुधार के लिए टेक्‍नॉलाजी उपयोग, जांच में सहायता के लिए वर्तमान कानूनों में संशोधन और नये कानून की आवश्‍यकता तथा डेटाबेस और अपराध जांच के बारे में विचार विमर्श किया जायेगा। 

विभिन्‍न राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों तथा जांच एजेंसियों द्वारा अपना जो रहे श्रेष्‍ठ व्‍यवहारों को भी सम्‍मेलन में दिखाया जायेगा। इस क्षेत्रों के विशेषज्ञ अपने अपने विचार प्रकट करेंगे। 

दो दिन के इस सम्‍मेलन में राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों तथा केन्‍द्रीय पुलिस संगठनों के पुलिस महानिदेशक तथा अपराध शाखाओं/एटीएस/आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्‍ल्‍यू)/ राज्‍यों/केन्‍द्र शासित प्रदेशों के एसटीएफ तथा अन्‍य जांच एजेंसियों के प्रमुख भाग लेंगे। सम्‍मेलन में पुलिस अ‍धीक्षक और जांच कार्य में लगे अधिकारी भी भाग लेंगे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: