Saturday, July 23, 2016

नितिन गडकरी ने राष्‍ट्रीय नौवहन बोर्ड को सम्‍बोधित किया





Road Transport & Highways,Shipping, Minister Nitin Gadkari in 129th meeting in New Delhi 


नई दिल्ली(अबतकन्यूज़) नौवहन और सड़क यातायात एवं राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने सामुद्रिक क्षेत्र में बृहद कौशल विकास का आह्वान किया है। आज यहां राष्‍ट्रीय नौवहन बोर्ड (एनएसबी) की 129वीं बैठक को सम्‍बोधित करते हुए श्री गडकरी ने कहा कि आवश्‍यक नीति स्‍तर और प्रशासनिक सुधारों को फौरन लागू करना होगा ताकि प्रशिक्षण संस्‍थान, कौशल विकास के काम में तेजी ला सकें। उन्‍होंने कहा कि रोजगार सृजन प्रमुख प्राथमिकता है और मौजूदा सरकार नौवहन तथा सम्‍बन्धित क्षेत्रों में आने वाले वर्षों में कई रोजगार अवसर पैदा करेगी। उन्‍होंने कहा कि प्रतिष्ठित सागरमाला कार्यक्रम एक करोड़ रोजगार पैदा करने में सक्षम है।
व्‍यापार में आसानी पैदा करने का उल्‍लेख करते हुए मंत्री महोदय ने राष्‍ट्रीय नौवहन बोर्ड के सदस्‍यों से आग्रह किया कि वे सामुद्रिक क्षेत्र में पूरे विश्‍व में अपनाई जाने वाली कार्यप्रणाली का अध्‍ययन करें। उन्‍होंने कहा कि सदस्‍यगण ऐसे सुझाव पेश करें, जिससे प्रशासनिक बदलाव लाने और नीतियों में सुधार करने में सहायता हो। श्री गडकरी ने इस अवसर पर राष्‍ट्रीय नौवहन बोर्ड का ‘लोगो’ भी जारी किया।
उल्‍लेखनीय है कि राष्‍ट्रीय नौवहन बोर्ड एक ऐसी सर्वोच्‍च सलाहकार संस्‍था है, जो भारतीय नौवहन तथा व्‍यापार नौवहन अधिनियम, 1958 सम्‍बन्‍धी विषयों पर सुझाव पेश करती है। बोर्ड की स्‍थापना एक मार्च, 1959 को की गई थी। आज चर्चा के दौरान बोर्ड के अध्‍यक्ष श्री विश्‍वपति त्रिपाठी ने बताया कि पिछले दो वर्षों के दौरान एनएसबी ने सामुद्रिक क्षेत्र में सुधार करने के लिए कई सिफारिशें की हैं। इनमें से कई सिफारिशें लागू की जा चुकी हैं। आज की बैठक में सांसद और एनएसबी सदस्‍य डॉ. के हरिप्रभु और श्री सी एम रमेश उपस्थित थे। इनके अलावा नौवहन मंत्रालय के अपर सचिव श्री आलोक श्रीवास्‍तव, नौवहन महानिदेशालय, नौसेना ऑपरेशन्‍स महानिदेशालय, भारतीय तटरक्षक महानिदेशालय के प्रतिनिधि, विभिन्‍न हितधारक, नाविक संघों के प्रतिनिधि तथा भारतीय नौसेना, तटरक्षक दल और सामुद्रिक विशेषज्ञों ने भी बैठक में हिस्‍सा लिया और विभिन्‍न विषयों पर चर्चा की। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: