Saturday, July 30, 2016

उड़ता पंजाब के बाद डूबता हरियाणा, बाढ़ जैसे हालात, घरों में कैद हुए लोग : ललित नागर



फरीदाबाद-30 जुलाई,2016(abtaknews.com ) दिल्ली से सटी तिगांव विधानसभा क्षेत्र की दर्जनों कालोनियों में बाढ़ जैसे हालात होने से लोगों में हडक़म्प मचा हुआ है। हालात ऐसे हो गए है कि लोग अपने परिवार सहित घरों में कैद होकर रह गए है, न तो नौकरीपेशा लोग कामधंधे पर जा रहे है और न ही बच्चे स्कूल जा पा रहे है। इन कालोनियों में बिजली की सप्लाई भी पूरी तरह से बाधित हो गई है, जिससे यहां के लोग बाढ़ जैसे हालातों का सामना करने को मजबूर है लेकिन इसके बावजूद जिला प्रशासन ने अभी तक इन लोगों की कोई सुध नहीं ली है। लोगों के घरों में जलभराव की जानकारी मिलते ही क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर ने आज दीपावली एंक्लेव, ओम एंक्लेव, रोशन नगर, सेक्टर-91, पांचाल कालोनी, कृष्णा कालोनी, श्याम कालोनी, सूर्या विहार  पार्ट-2 सहित दर्जनों कालोनियों का दौरा करके लोगों की समस्याएं जानी। विधायक ललित नागर ने लोगों के साथ स्वयं पानी में उतरकर जलभराव क्षेत्रों का जायजा लिया और मौके पर ही प्रशासनिक अधिकारियों से फोन पर बात करके उन्हें वास्तुस्थिति अवगत करवाया। श्री नागर ने अधिकारियों को बताया कि जल्द ही अगर यहां से जलनिकासी की उचित व्यवस्था नहीं की गई तो यहां महामारी भी फैल सकती है। विधायक ललित नागर ने कहा कि जलनिकासी न होने के कारण तिगांव क्षेत्र पूरी तरह से तालाब क्षेत्र बन गया है। कालोनियों में सडक़ों के साथ-साथ लोगों के घरों में कई-कई फुट पानी जमा हो गया है, जिसके चलते जहां लोगों का जीना दुश्वार हो गया है वहीं उनका आर्थिक नुकसान भी हो गया है। उन्होंने कहा कि बड़े दुख की बात है कि इससे पूर्व भी उन्होंने जलभराव क्षेत्रों का दौरा किया था परंतु नगर निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी, मजबूरन उन्होंने लोगों की समस्या को जानने के लिए फिर से पानी में उतरना पड़ा। ललित नागर ने कहा कि भाजपा सरकार केवल हवा में विकास की बातें कर रही है, गुडग़ांव में लगे महाजाम ने साबित कर दिया कि खट्टर सरकार हरियाणा के इतिहास की सबसे कमजोर सरकार साबित हुई है, जो सरकार शहर की यातायात व्यवस्था को नहीं संभाल सकती, उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं है। उन्होंने कहा कि तिगांव क्षेत्र की दर्जनों कालोनियां में बाढ़ जैसी स्थिति आ गई है, लोगों के घरों में पानी भर जाने के कारण वह बच्चों के साथ घरों से बाहर आकर जीवन यापन करने को मजबूर हो रहा है। श्री नागर ने केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर को चौतरफा घेरते हुए कहा कि आखिरकार तिगांव क्षेत्र के लोगों का क्या कसूर है? क्या उन्होंने मंत्री जी को वोट नहीं दिए या फिर उनके चुनाव का बदला लिया जा रहा है? उन्होंने कहा कि लोगों के घर चौतरफा पानी से घिरे होने के कारण कभी भी गिर सकते है और अगर कोई अप्रिय घटना घटित होती है, जो उसकी जिम्मेदारी भाजपा के मंत्री व प्रशासन की होगी। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर प्रशासन ने अपना रवैया नहीं बदला तो वह क्षेत्र के लोगों के साथ सडक़ों पर उतरकर अनिश्चितकालीन आक्रोश प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। इस मौके पर ब्रहम प्रधान, हंसा रावत, मुकुटपाल, सतीश आचार्य, नीरज राणा, शोभा रानी, सोनिया, गोपाल पाण्डे, रामभरन मौर्या, राजेंद्र प्रजापति, आनंद राय, डी.डी. सिंह, महतम, रामवीर प्रधान, राजू नागर,  रमेश नरवाल, शंकर शर्मा, चिंता पाण्डे, कृष्ण, आशीष सहित अनेकों कालोनीवासी उपस्थित थे।
लगातार हो रही बरसात से फरीदाबाद हुआ जलमग्न,जनजीवन अस्तव्यवस्त

गुुडगांव के बाद अब फरीदाबाद में भी जलभराव की कुछ ऐसी ही स्थिति नजर आ रही है। सावन के महीने की शुरूआत से पहले ही अपना रंग दिखाने वाले बरसाती मानसून की रिमझिम के साथ तेज बरसातों ने जहाँ लोगो को उमस भरी गर्मी से राहत दी है वहीं लोगो का सडक़ों पर निकलना मुश्किल हो गया है। आंख मिचौली खेल रहे बरसाती मानसून से समूचा फरीदाबाद जलमग्न हो चुका है। सेक्टर एरिया हो चाहे कालोनी जहाँ देखो वहां जलभराव दिखाई देता है। बारिश से हुए जलभराव के चलते सुबह से लोगो के लिए घर से निकलना एक बड़ी समस्या बन गया है. जलभराव के चलते लोगों के वाहन बंद हो गए है। वाहन बन्द होने के बाद लोग प्रसासन और सरकार को कोसते दिखाई दिए। फरीदाबाद निवासी ब्रिजपाल ने बताया की जलभराव की स्थिति पूरे फरीदाबाद में बनी हुई है और उनका वाहन भी जलभराव के चलते बंद हो गया है प्रशसन को कोसते हुए उन्होंने कहा की सरकार का काम देखो की जलभराव के चलते कितना बुरा हाल हो गया है फरीदाबाद का।
&&&&&&&&&&&&&&&&&&&


loading...
SHARE THIS

0 comments: