Wednesday, July 20, 2016

शिक्षा निदेशक के बुलावे पर चण्डीगढ़ पहुंचा मंच प्रतिनिधि मंडल




चण्डीगढ़, 20 जुलाई,2016 हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने मंगलवार को शिक्षा सचिव व शिक्षा निदेशक हरियाणा को फरीदाबाद, गुडग़ांव , करनाल जिले के तीस स्कूलों की मनमानी व नियमों के उल्लघन का पूरा ब्यौरा सौंप कर इसकी  उच्च स्तरीय जांच कराने की मंाग की। इसमें बीस स्कूल फरीदाबाद के व पंाच-पांच  स्कूल गुडग़ांव व करनाल जिलें के शामिल हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय के हस्तक्षेप के बाद शिक्षा निदेशक के बुलावे पर चण्डीगढ़ व पंचकूला गए मंच के जिला अध्यक्ष शिव कुमार जोशी एडवोकेट के नेतृत्व में जिला सचिव डा.मनोज शर्मा, अन्य पदाधिकारी रमेश राणा, प्रवीण शर्मा,चंचल चर्चिल ने इन अधिकारियों को सीबीएसई, शिक्षा नियमावली व हुडा के उन नियम कानूनों की जानकारी दी जिनका उल्लघन करके यह स्कूल शिक्षा का व्यवसायिक करण कर रहे हैं। ब्यौरे के साथ इन स्कूलों द्वारा पिछले पांच सालों में टयूशन फीस व अपनी मर्जी से बनाए गए गैर कानूनी फंडों में की गई बेहताशा वृद्धि एडवांस में फीस लेना, नए दािखला में भारी डोनेशन व मां बाप का इंटरव्यू लेना एनसीआरटी की जगह प्राईवेट पब्लिशर्स की किताब लगाना आदि की जानकारी संल्घन है। मुलाकात के समय मंच की और से 10  जुलाई को आयोजित अभिभावक हल्ल बोल रैली में पारित 21 सूत्रिय मांग पत्र भी उचित कार्यवाही हेतू दिया गया। मांग पत्र पर विस्तृत रूप से बात चीत करने के लिए मंच  को समय देने व 31 अगस्त तक ठोस कार्यवाही करने का आग्रह किया गया। शिक्षा सचिव को बताया गया कि हल्ला बोल रैली में पारित प्रस्ताव के अनुसार मंच के मांग पत्र पर 31 अगस्त तक अभिभावकों के हित में उचित कार्यवाही नहीं की गई तो प्रदेश के अभिभावक 12 सितंबर को शिक्षा सदन पंचकुला पर आक्रोश प्रर्दशन करेंगे। मंच ने इसका अलग से नोटिस दिया है।  डा. मनोज शर्मा न बताया कि शिक्षा सचिव निदेशक ने प्रतिनिधि मंडल की बात ध्यान से सुनी। इन अधिकारियों ने मंच को बताया कि प्रदेश के प्रत्येक जिलें से निजी स्कूलों की मनमानी व नियमों के उल्लघन की काफी शिकायतें प्राप्त हुई हैं। अभिभावकों द्वारा पीएमओ आफिस को भेजी गई शिकायतें भी पीएमओ आफिस ने उचित कार्यवाही हेतू मुख्य सचिव हरियाणा को भेजी है इन सभी की जांच की जा रही है जांच के बाद दोषी स्कूलों के खिलाफ उचित कार्यवाही की जाएगी। 
------------------------


loading...
SHARE THIS

0 comments: