Saturday, July 30, 2016

गांव मच्छगर में सीसीटीवी कैमरा का निरक्षण करने पहुंचके डीजीपी केपी सिंह


बल्लबगढ़ -जुलाई 30,2016(abtaknews.com ) पृथला विधानसभा के गांव मच्छगर में आज हरियाणा पुलिस के डीजीपी ने पंचायत द्वारा लगाए सीसीटीवी कैमेरों का निरिक्षण किया। उनका मानना है कि ग्रामीणों ने इस गांव सीसीटीवी की नजर में डालकर बहुत सराहनीय कार्य किया गया है। जिसे देखने के लिए वे गांव में पहुंचे हैं। इस मौके पर उनके साथ पुलिस कमिश्रर हनीफ कुरैशी व डीसीपी बल्लभग भी मुख्य रूप से मौजूद रहे। 

गांव मच्छगर में डीजीपी केपी सिंह ने निरिक्षण कर पंचायत की भूरि भूरि प्रशंसा की। असल में गांव के सरपंच ने करीब 18 लाख रूपये की लागत से गांव के हर चौक चौराहे पर करीब 160 सीसीटीवी कैमरे लगवाए है ताकि गांव की सुरक्षा सही तरीके से की जा सके। डीजीपी केपी सिंह ने बताया कि उन्हें मालूम चला था कि गांव मच्छगर में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं तभी वे यहंा पर पहुंचे हैं और ग्रामीणों से बातचीत की जिन्होंने बताया कि जब से कैमरे लगे हैं तब से गांव के अपराधिक किस्म के कुछ लोग थे अब ठीक हैं और क्राइम भी कम हो गया है। हरियाणा के पुलिस महानिदेशक डॉ० के.पी. सिंह ने यह जानकारी फरीदाबाद के सैक्टर-12 स्थित हुडा कन्वेंशन सेंटर के सभागार में पुलिस प्रशासन की ओर से आयोजित पुलिस पब्लिक सम्मेलन के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में अपने संबोधन के दौरान दी। सम्मेलन में फरीदाबाद जिले की सभी ग्राम पंचायतों के सरपंचो ने प्रमुख रुप से भाग लिया। इससे पूर्व डीजीपी डॉ० के.पी. सिंह ने जिला के गांव मछगर में लगभग 18 लाख रुपए की लागत से लगाए गए 160 कैमरा वाले सीसीटीवी सिस्टम का उदघाटन भी किया।
डॉ० के.पी. सिंह ने कहा कि ग्राम सरपंच एक ऐसा मुखिया होता है जिसके आह्वान का पूरे ग्रामवासी अनुसरण करते हैं । हमारी युवा पीढ़ी में पनपती हुई नशे की लत विनाश का कारण  बन रही है । गांव में घूंघट जैसी कुप्रथा ने शिक्षित प्रतिभाओं के गुणों को दबा कर रखा हुआ है। कुछ लोग अवैध शराब की बिक्री व नशाखोरी से जुड़े हैं, जिसे रोकना बेहद जरूरी है।  डॉ० सिंह ने इन सभी बुराइयों को समाप्त करने के अलावा सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान, बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ जैसे अभियानों में सहयोग देने के लिए सरपंचों का आह्वान किया।  उन्होंने कहा कि हमारे समाज में कन्या भ्रूण हत्या एक जघन्य अपराध और घ्रणित कार्य है, जिसे रोकना अत्यंत आवश्यक है।  
उपायुक्त चंद्र शेखर ने डॉ० सिंह का स्वागत व्यक्त करते हुए जनप्रतिनिधियों से प्रशासन को सामुदायिक सहयोग देने की अपील की। उन्होंने कहा कि सभी सरपंच जागरुक रहकर समाज को नई दिशा देने में भरपूर सहयोग दें जिला पुलिस आयुक्त डॉक्टर हनीफ कुरैशी ने डीजीपी डॉक्टर सिंह का स्वागत व्यक्त करते हुए कहां की सडक़ सुरक्षा संगठन द्वारा जिले में ट्रैफिक पुलिस को दिए जा रहे सहयोग की तर्ज पर ही ग्राम सरपंच भी  विभिन्न प्रकार के सुरक्षा इंतजामों  व रचनात्मक कार्यों में भरपूर सहयोग दें । 
डॉ० के.पी. सिंह ने ग्राम वासियों को संबोधित करते हुए कहा कि इस सुविधा के शुरु होने से उनके गांव की सुरक्षा व्यवस्था और अधिक सुदृढ़ होगी। आज के हाइटेक युग में सीसीटीवी जैसी पारदर्शी सुविधा के फलस्वरुप ग्रामीण क्षेत्र में भी विकास के कार्यक्रमों व योजनाओं तथा स्वच्छता जैसे आवश्यक प्रबंधन कार्यों को ढंग से पूरा करने में मदद मिलेगी।  उन्होंने ग्राम वासियों से अपील की कि इस सिस्टम सहित गांव के विकास से जुड़ी अन्य सभी प्रकार की गतिविधियों के संचालन में वह अपना भरपूर सहयोग दें।  उन्होंने गांव के लोगों का का आह्वान किया कि वे अवैध रूप से की जाने वाली शराब की बिक्री तथा नशाखोरी को रोकने में भी पुलिस को भरपूर सहयोग दें ताकि युवा पीढ़ी को नई दिशा प्रदान की जा सके।  

loading...
SHARE THIS

0 comments: