Saturday, July 16, 2016

कश्मीर विषय पर आयोजित होने वाली अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिस्सा लेंगे




नई दिल्ली, 16 जुलाई,2016(abtaknews.com) कश्मीर में शांति बहाली के लिए देश भर के विश्वविद्यालयों के कुलपति और सामाजिक कार्यकर्ता जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय में इक_ा हो रहे हैं। इन कुलपतियों के साथ-साथ दुनिया भर के विद्वान जेएनयू में 29-30 जुलाई को पीस, पीपुल एंड पोसिविलिटीज इन कश्मीर विषय पर आयोजित होने वाली अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी में हिस्सा लेंगे। इस कार्यक्रम का आयोजन विश्वग्राम कर रहा है। अंतर्राष्ट्रीय संगोष्ठी को आयोजित करने का फैसला विश्वग्राम की कोर कमेटी की बैठक में लिया गया।

 विश्वग्राम एक स्वयंसेवी संस्था है जो विश्व-बंधुत्व के साथ-साथ भारत के सांस्कृतिक उत्थान और राष्ट्रीय एकता के लिए संगोष्ठी, संवाद-कार्यक्रम आदि सामाजिक गतिविधियों में लगातार सक्रिय रहती है। वैश्विक-शांति और सदभाव के अपने इसी मिशन के तहत विश्वग्राम कश्मीर में शांति और खुशहाली की बहाली के लिए तमाम प्रतिष्ठित विद्वानों, सामाजिक कार्यकर्ताओं और राष्ट्रवादियों की अंतर्राष्ट्रीय विचार-गोष्ठी जेएनयू में आयोजित कर रहा है। यह विचार-गोष्ठी कश्मीर में शांति और विकास कीदिशा में मील का पत्थर साबित होगी। इस संवाद कार्यक्रम में दो दर्जन से अधिक विश्वविद्यालयों के कुलपति भी भाग लेंगे।

 इस संगोष्ठी के माध्यम से जेएनयू के जिस परिसर में कश्मीर की आजादी तक जंग रहेगी, भारत की बर्बादी तक जंग रहेगी, जैसे राष्ट्र विरोधी नारे लगाए गए थे, वहीं राष्ट्र - निर्माण और राष्ट्रीय अखंडता का शंखनाद किया जाएगा। इस संवाद कार्यक्रम में कश्मीर के प्राचीन गौरव और राष्ट्रीय अखंडता का शंखनाद किया जाएगा। इस संवाद कार्यक्रम में कश्मीर के प्राचीन गौरव और कश्मीर समस्या के सभी पहलुओ पर व्यापक और गहन विचार विमर्श किया जाएगा। इस कार्यक्रम का संयोजन मनीष गोयल करेंगे जबकि दिल्ली विश्वविद्यालय में प्रोफेसर डॉ० अवनिजेश अवस्थी को संगठन मंत्री बनाया गया। इस बैठक की अध्यक्षता प्रोफेसर गीता सिंह ने की जबकि संचालन विश्वग्राम के महामंत्री प्रो० राजवीर सोलंकी ने किया। कोर कमेटी की बैठक में मुख्य रूप से भरत रावत, प्रो० अवनिजेश अवस्थी, डॉ० राकेश कुमार पांडेय, प्रो० बलवान गौतम, मनीष गोयल, मुकेश छिक्कारा, मो० उमर, डॉ० योगेन्द्र कुमार और डॉ० रसाल सिंह सहित प्रमुख बुद्धिजीवियों एवं संस्था के वरिष्ठ पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: