Monday, July 18, 2016

जिले के कांग्रेसियों ने खोला किरण चौधरी व कैप्टन अजय यादव के खिलाफ मोर्चा



फरीदाबाद-18 जुलाई,2016(abtaknews.com) पलवल के विधायक करण दलाल, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव जलेब खां, पूर्व विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया, पूर्वमंत्री शिवचरण लाल शर्मा, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन कुमार सिंगला, पूर्व चेयरमैन अब्दुल गफ्फार कुरैशी व कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष गुलशन बग्गा ने हरियाणा विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल की नेता श्रीमती किरण चौधरी व पूर्वमंत्री कैप्टन अजय यादव के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए किरण चौधरी को पद से हटाने की मांग की है। यहां जारी एक प्रेस बयान में कांग्रेसी नेताओं ने संयुक्त रुप से कहा कि कांग्रेस सीएलपी लीडर किरण चौधरी द्वारा मुख्यमंत्री की तारीफ किए जाने के बाद अब उन्हें सीएलपी जैसे महत्वपूर्ण पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि सीएलपी लीडर का अर्थ होता है कि सरकार और मुख्यमंत्री के विरोध में अपनी पार्टी को मजबूत स्थिति में पहुंचाना होता है, लेकिन इसके उल्ट सीएलपी लीडर किरण चौधरी ने मुख्यमंत्री की तारीफ करके एक तरह से सीएलपी लीडर के पद को मुख्यमंत्री की चौखट पर गिरवी रख दिया है, जिससे प्रदेश के कांग्रेसजनों में गहरा धक्का लगा है, ऐसे में वह कांग्रेस आलाकमान श्रीमती सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी से मांग करते है कि वह हरियाणा प्रदेश में पार्टी की छवि को खराब करने वाली किरण चौधरी को न केवल सीएलपी लीडर पद से हटाए बल्कि कांग्रेस से बाहर का रास्ता दिखाए। वहीं उक्त कांग्रेसी नेताओं ने पूर्वमंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव पर वार करते हुए उन्हें भी कांग्रेस से निष्कासित किए जाने की खुलकर मांग उठाई। उन्होंने कहा कि दस वर्षाे तक कांग्रेस के ऊंचे औहदे पर सरकार का अह्म हिस्सा रहे कैप्टन यादव आज किस हैसियत से उस समय की सरकार के मुखिया भूपेंद्र हुड्डा के खिलाफ बयानबाजी कर रहे है और हद तो जब हो गई, जब कैप्टन अजय यादव भी आज के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के यहां सरेंडर हो गए। उक्त नेताओं ने कहा कि कैप्टन यादव आज आकूत संपत्ति के मालिक है इसलिए इनकी संपत्ति की जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आज किरण चौधरी व कैप्टन अजय सिंह यादव जैसे नेताओं की वजह से हरियाणा प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की किरकिरी हो रही है, जिससे गांव और शहर में बैठा आम कांग्रेसी आज अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहा है। कांग्रेस के उक्त वरिष्ठ नेताओं ने संयुक्त रूप से दोनों कांग्रेसी नेताओं से पार्टी से निकाले जाने की पुरजोर मांग उठाई है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: