Monday, July 18, 2016

अनगंपुर गांव के शमशान घाट के निकट जमीन पर भाजपा नेता कर रहे हैं कब्जे

                                                                   
       
     
फरीदाबाद-18जुलाई,2016(abtaknews.com)अरावली की बेशकीमती जमीन पर कब्जा करने वाले भूमाफियाओं की भूख इतनी बढ़ गई है कि वो शमशान घाट के साथ लगती जमीन पर भी कब्जा करने सें हिचक नहीं रहे है। वैसे तो भूमाफिया अरवाली क्षेत्र में पेड़ काटकर और पहाडों को समतल बनाकर इस हरे भरे क्षेत्र को छलनी करने में लगे है, उन्हें ना तो इस क्षेत्र के जंगली जानवरों से लेना देना है,ना पशु पक्षियों से और ना ही पर्यावरण के गंभीर खतरे से। जबकि इस क्षेत्र में खनन पर माननीय उच्चतम न्यायालय से पूर्णत: रोक लगी हुई है। भूमाफियाओं ने अनंगपुर के शमशान घाट के साथ लगती जमीन पर चारदिवारी करके उसपर कब्जा कर लिया है। हैरानी वाली बात यह है कि इतनी बड़ी चारदिवारी कोई एक दो दिन में खड़ी नहीं हो सकती इसको बनाने में कई हफ्ते या महीनें लगे होगें फिर भी किसी की नजर इसपर क्यों नहीं पड़ी। अनंगपुर गांव निवासी जगबीर का कहना है कि भूमाफिया देवेन्द्र भड़ाना पुत्र सरूपा निवासी लकड़पुर और भाजपा के छुटभैया नेता लाला की मिलीभगत से यह कब्जा किया जा रहा है। उन्होनें कहा कि कि बिना अधिकारियों की सांठगांठ से यह काम नहीं हो सकता। उन्होनें कहा कि राष्ट्रीय हरित आयोग यदि इस क्षेत्र का दौरा करे तो वो भी दंग रह जाएगा कि किस तरह भूमाफिया दिल्ली एनसीआर के एकमात्र जंगल(अरावली हिल) जिसका इस पूरे क्षेत्र के प्रदूषण को संतुलित करने में अहम योगदान है को काटकर पृथ्वी के अस्तित्व पर गंभीर खतरा पैदा कर रहे है। जगबीरं का कहना है कि बहुत सी सामाजिक संस्थाएं इस क्षेत्र को बचाने के लिए दिन रात मेहनत कर रही है ताकि इस हरे भरे क्षेत्र को इन भूमाफियाओं के चुगंल से बचाया जा सके इसके लिए उन्होनें राष्ट्रीय हरित आयोग में याचिका भी दायर की है ताकि हमारे आने वाली पीढ़ी स्वच्छ वायु के साथ साथ स्वस्थ जीवन  जी सके।


loading...
SHARE THIS

0 comments: