Sunday, July 17, 2016

सरंक्षण अधिकारी एवं बाल विवाह प्रतिशेध अधिकारी ने 3 महीने में 110 शिकायतों का किया निबटारा






फरीदाबाद (abtaknews.com) पुलिस आयुक्त डा0 हनीफ कुरैशी को सरंक्षण अधिकारी एव बाल विवाह प्रतिशेध अधिकारी हेमा कोषिक ने अपनी 3 महीने की रिपोर्ट सौपी है। जिसमें तीन माह के अंदर घरेलू हिंसा के 43 मामले सामने आए हैं। सभी मामलों को अदालत में दायर कर दिया गया है।बाल विकास विभाग की संरक्षण अधिकारी को अप्रैल से जून माह में 110 शिकायतें मिली हैं। इनमें 52 शिकायतें पुलिस के जरिए मिली हैं। व 52 कोर्ट के जरिए मिली है। व 6 अन्य सूत्रों से मिली है। इस बीच 43 मामले घरेलू हिंसा के सामने आए हैं। जिनमें पीड़िताओं को वकील उपलब्ध करवाकर न्यायालय में दायर करवाया गया है।
महिला एवं बाल विकास सरंक्षण अधिकारी ने बल्लभगढ़ की सुभाष कॉलोनी, भूपानी थाना व छायंसा थाना के इलाके में नाबालिग की शादी रुकवाई गई थी। तीन माह में कुल पांच नाबालिगों की शादी रुकवाई गई हैं।
सरंक्षण अधिकारी, जिला फरीदाबाद द्वारा घरेलू महिलाओं/स्कूल कालिजो की छात्राओं को उनके अधिकारों के बारे में अवगत कराया जा रहा है। जगह जगह पर कैम्प लगाकर, घरेलू हिंसा अधिनियम 2005 एंव बाल विवाह प्रतिशेध अधिनियम 2006 की जानकारी दी जा रही है।स्कूल-कालिजो की छात्राओं को भी सुरक्षित रहने बारे भी जानकारी दी जा रही है। तथा उन्हे स्वंय जागरूक एंव अन्य लोगो को भी जागरूक करने के संदेष दिये जा रहे है। महिला एंव छात्राओं को किसी भी तरह की असुविधा होने या किसी घटना की आषंका होने पर महिला हैल्प लाईन नम्बर-1091, पुलिस कंट्रोल रूम 100 नम्बर व श्रीमान पुलिस आयुक्त डा0 हनीफ कुरैशी की पहल पर शुरू किये गए FIR APP ( FIRST IMMEDIATE RESPONSE) के बारे में जानकारी दी जा रही हैं। ताकि महिलाएं व बच्चें अपने को सुरक्षित महसुस कर सकें।


loading...
SHARE THIS

0 comments: