Thursday, July 21, 2016

केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय हरियाणा-राजस्थान में पर्यटन पर 195 करोड़ खर्च करेगा


नई दिल्ली (अबतक न्यूज़)पर्यटन मंत्रालय ने स्वदेश दर्शन योजना के तहत हरियाणा, राजस्थान और गुजरात राज्यों में कृष्णा और विरासत सर्किट के विकास के लिए 275 करोड़ रुपये की परियोजना को मंजूरी दी है। स्वदेश दर्शन योजना के लिए केंद्रीय मंजूरी एवं निगरानी समिति (सीएसएमसी) की बैठक कल पर्यटन सचिव श्री विनोद जुत्शी के नेतृत्व में आयोजित की गई। इस बैठक में पर्यटन मंत्रालय और गुजरात, हरियाणा व राजस्थान राज्य सरकारों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।
कृष्णा सर्किट के तहत, राजस्थान राज्य में श्रीनाथ जी (नाथद्वारा), गोविंद देवजी (जयपुर), कनक वृंदावन (जयपुर), चरन मंदिर (जयपुर), गलताजी मंदिर परिसर (जयपुर) और खाटू श्याम (सीकर) स्थलों को शामिल किया गया है। इस परियोजना की लागत लगभग 98.00 करोड़ रुपये होगी। इस परियोजना में इन स्थलों का विश्व स्तर का ढांचागत विकास शामिल है, जिसमें ऑडियो विजुअल और प्रोजेक्शन शो, स्थलों पर प्रकाश व्यवस्था, सौर प्रकाश व्यवस्था और सड़कों की प्रकाश व्यवस्था, पर्यटक सहायता केंद्रों का निर्माण, यात्री शेड, सड़क के किनारे सुविधाओं के ढांचागत विकास, पार्किंग, जनसुविधाओं, ओपन एयर थियेटर, सांस्कृतिक व्याख्या केंद्र, फव्वारे और बागवानी पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।
कुरुक्षेत्र (हरियाणा) और उसके आसपास स्थित स्थलों को हरियाणा राज्य के कृष्णा सर्किट में शामिल किया गया है। ज्योतिसर, ब्रह्म सरोवर, सन्नहित सरोवर, नर्कातरी, बान गंगा, अमीन, अभिमन्यु का टीला स्थलों का विकास, स्नान घाट की सुविधा (लॉकर्स, चेंजिंग रूम, आदि), महाभारत थीम पार्क का निर्माण, वाटर चैनल और फव्वारे (परिदृश्य का हिस्सा; सरस्वती नदी), बहु उद्देशीय पर्यटक सूचना केंद्र, ब्रह्म सरोवर की प्रकाश व्यवस्था और ब्रह्म सरोवर मंदिर की प्रकाश व्यवस्था, म्यूजिकल फाउंटेन के साथ मल्टीमीडिया लेजर शो, पार्किंग और जनसुविधाओं के विकास आदि को इस परियोजना में शामिल किया गया है। हरियाणा में कृष्णा सर्किट के एकीकृत विकास के लिए कुल परियोजना लागत 96.00 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।
गांधी थीम पर गुजरात की विरासत सर्किट में मुख्य ध्यान अहमदाबाद (कोचरब आश्रम, साबरमती आश्रम, डांडी पुल,), राजकोट (अल्फ्रेड हाई स्कूल, काबा गांधी नोडेलो, राष्ट्रीय शाला), पोरबंदर (कीर्ति मंदिर), बारदोली (सरदार पटेल संग्रहालय) और डांडी (गांधी स्मृति रेलवे स्टेशन, कराडी गांव, दांडी मेमोरियल) जैसे स्थलों को शामिल किया गया है। इस परियोजना की कुल परियोजना लागत 80.00 करोड़ रुपये होने का अनुमान है। जिसमें अति आधुनिक ऑडियो विजुअल और प्रोजेक्शन शो, स्थलों की प्रकाश व्यवस्था, पर्यटक सुविधा केंद्रों का निर्माण, सड़क किनारे सुविधाओं का ढांचागत विकास, पार्किंग, जनसुविधाएं और बागवानी आदि शामिल हैं। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: